आप को मिले लगातार दो विधानसभा चुनाव में आधे से ज्यादा वोट

नयीदिल्ली,11फरवरी(भाषा)दिल्लीविधानसभाचुनावमेंलगातारदोबारचुनावजीतनेवालीआमआदमीपार्टी(आप)नेदोनोंचुनावमेंआधेसेज्यादामतहासिलकरनेकाकारनामाकरदिखायाहै।विधानसभाचुनावकीमंगलवारकोजारीमतगणनाकेरुझानोंमेंआप53.54प्रतिशतकेसाथ63सीटोंपरनिर्णायकबढ़तबनालीहै।वहीं,2015केदिल्लीविधानसभाचुनावमेंआपको54.3प्रतिशतवोटमिलेथेऔर67सीटोंपरपार्टीनेऐतिहासिकजीतदर्जकरायीथी।चुनावविश्लेषणसेजुड़ीशोधसंस्थाएडीआरकेसंस्थापकऔरराजनीतिकविश्लेषकप्रो.जगदीपछोकरनेबतायाकिइसचुनावमेंआपकाप्रदर्शनसीटोंकीसंख्याऔरमतप्रतिशतकेलिहाजसेभलेहीपिछलेचुनावकेसमानहीरहाहो,लेकिनपांचसालसरकारमेंरहनेकेबादसत्ताविरोधीस्वाभाविकलहरकेबावजूदयहप्रदर्शनमहत्वपूर्णहै।उन्होंनेबतायाकिकिसीक्षेत्रीयदलकालगातारदोबार50प्रतिशतसेअधिकमतप्रतिशतकेसाथसत्तामेंवापसीकरनेकाऔरकोईउदाहरणभारतकेचुनावीइतिहासमेंदेखनेकोनहींमिलताहै।इतनाहीनहींआप,संभवत:एकमात्रक्षेत्रीयदलहैजिसनेएकराज्यमेंसत्तारूढ़रहतेहुयेकिसीअन्यराज्यकेचुनावमेंभीदमदारमौजूदगीदर्जकरायीहै।उल्लेखनीयहैकिदिल्लीमें2013और2015मेंसत्तासीनहोनेकेबादआप,फरवरी2017मेंपंजाबविधानसभाचुनावमेंदूसरीसबसेबड़ीपार्टीकेरूपमेंउभरीथी।पंजाबमेंआपने23प्रतिशतमतहासिलकर20सीटेंजीतनेकेबादमुख्यविपक्षीदलबनीथी।प्रो.छोकरनेकहाकिकिसीराजनीतिकदलके‘स्ट्राइकिंगरेट’केलिहाजसेभीअगरदेखेंतोपार्टीस्थापितहोनेकेपांचसालकेभीतरएकराज्यमेंसत्तासीनहोना,एकअन्यराज्यमेंमुख्यविपक्षीदलबननाऔरतीनस्थानीयनिकायोंमेंभीविपक्षीदलबननेवालीआपएकमात्रपार्टीहै।आपकेप्रदर्शनकोआंध्रप्रदेशमेंवाईएसआरकांग्रेससेतुलनाकेसवालपरप्रोछोकरनेकहाकिआपऔरवाईएसआरकांग्रेसकोएकसमानप्रकृतिकाराजनीतिकदलमाननाउचितनहींहोगा।उन्होंनेकहाकि2012मेंपार्टीकागठनकरनेवालेआपकेनेताओंकीकोईराजनीतिकपृष्ठभूमिनहींथी,जबकिवाईएसआरकांग्रेसहोयातेलंगानाराष्ट्रसमिति(टीआरएस)इनकेनेताराजनीतिकपृष्ठभूमिवालेथे।उन्होंनेदलीलदीकिवाईएसआरकांग्रेसमूलरूपसेकांग्रेससेनिकलेनेताओंद्वारा2011मेंबनायीगयीपार्टीथीजोएकविधानसभाचुनावहारनेकेबाद2019मेंआंध्रप्रदेशकीसत्तामेंआयी।जबकिआपने2012मेंगठनकेतुरंतबाद2013केविधानसभाचुनावमेंचौंकानेवालाप्रदर्शनकरतेहुये70मेंसे28सीटजीतकर29.49प्रतिशतवोटहासिलकियेथे।प्रोछोकरनेकहा,‘‘गैरराजनीतिकपृष्ठभूमिवालेलोगोंद्वारागठितकिसीराजनीतिकदलकेचुनावीप्रदर्शनकाऐसाकोईऔरउदाहरणदेखनेकोनहींमिलताहै।’’उल्लेखनीयहैकिअसममेंछात्रआंदोलनसेपरिणामस्वरूपबनीअसमगणपरिषद(अगप)ने1985मेंअसमविधानसभाचुनावमें126मेंसे67सीटजीतीथीं,जबकिइसकेबादहुयेलोकसभाचुनावमेंअगपनेअसमकी14लोकसभासीटोंमेंसेसातसीटेंजीतकरचौंकानेवालाप्रदर्शनकियाथा।