अब सेवानिवृत्त पुलिस कर्मी साइबर ठगों के निशाने पर

जागरणसंवाददाता,फर्रुखाबाद:नौजवानोंऔरनईपीढ़ीकेलोगोंकेहोशियारहोजानेकेबादहैकरोंकोअबबुजुर्गपेंशनरोंकोठगनाआसानलगरहाहै।पुलिसविभागकेकिसीकर्मचारीकीमिलीभगतसेडाटालीककरानेकेबादफिलहालसेवानिवृत्तपुलिसकर्मियोंकोनिशानाबनानेपरजोरहै।

वरिष्ठकोषाधिकारीअतुलतिवारीनेबतायाकिकाफीसंख्यामेंपुलिसविभागकेपेंशनर्सकेपाससाइबरठगोंद्वाराफोनकरउनकीपेंशनकेसत्यापनकेनामपरउनकाअकाउंटनंबरऔरपेंशननंबरआदिकीजानकारीमांगीकीजातीहै।इसकेबादपेंशनधनराशिपहुंचीयानहींपहुंचीयहकंफर्मकरनेकेनामपरएटीएमकार्डनंबरऔरपासवर्डआदिपूछकरखातोंसेरुपएउड़ादिएजातेहैं।वरिष्ठकोषाधिकारीअतुलतिवारीनेइसप्रकारकीशिकायतेंमिलनेकेबादपत्रजारीकरसभीपेंशनरोंकोसावधानकियाहै,किकोषागारयाबैंकसेउनसेकिसीप्रकारकासत्यापननहींमांगाजाताहै।इसलिएकिसीभीफोनपरअपनेपेंशननंबरयाअकाउंटसंख्याकेबारेमेंजानकारीनादेंऔरनाहीएटीएमकार्डऔरपासवर्डआदिकेबारेमेंबताएं।मामलेमेंपुलिसअधीक्षककोभीअवगतकरादियागयाहै।एकसेवानिवृत्तदारोगाकेअलावाएकपूर्वमंत्रीकेगनरनेभीउन्हेंव्यक्तिगतरूपसेअज्ञातव्यक्तिद्वाराफोनकिएजानेकेबारेमेंजानकारीदी।कईअन्यकोषागारकर्मियोंकेपासभीलोगोंनेफोनकरजानकारीदीहै।उन्होंनेबतायाकिकर्मचारियोंकीपेंशनकाविवरणपुलिसहेडक्वॉर्टरपररहताहै।होसकताहैवहींकेकिसीकर्मचारीनेडाटालीककरदियाहो,याउससेगलतीसेलीकहोगयाहो।

अखिलेशअग्निहोत्री,सहायककोषाधिकारी