अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद मनाएगा काला दिवस

संवादसहयोगी,जमालपुर(मुंगेर):अखिलभारतीयविद्यार्थीपरिषदकेनेताओंनेमाध्यमिकशिक्षकपात्रतापरीक्षा(एसटीईटी)रदकरनेकेनिर्णयपरमुख्यमंत्री,उपमुख्यमंत्री,शिक्षामंत्रीऔरबिहारविद्यालयपरीक्षासमितिकेअध्यक्षसेपुनर्विचारकरनेकीमांगकी।अभाविपनेताओंनेछात्रोंकेभविष्यसेखिलवाड़करनेकाआरोपलगातेहुएकईसवालखड़ेकिएहैं।विद्यार्थीपरिषदकेविभागसंयोजकसहसीनेटसदस्यविक्कीआनंदनेकहाकिसरकारनेइसवर्ष28जनवरीकोहुईपरीक्षाकोरदकरदिया।जिसमें2लाख43हजार141परीक्षार्थियोंनेभागलियाथा।बोर्डनेपरीक्षाकेफिरसेआयोजनकाप्रस्तावभेजाहै।जोछात्रोंकेभविष्यकेसाथनासिर्फखिलवाड़है,बल्किछात्रोंकोआर्थिकनुकसानभीहोगा।अभाविपनेताओंनेकहाकिएसटीईटीकीपरीक्षाफिरकबहोगी,इसकेबारेमेंभीशिक्षाविभागकीओरसेकोईअधिसूचनाजारीनहींकीगईहै।इसकाअसरसरकारद्वाराघोषित34सौपदोंपरशिक्षकोंकीबहालीपरपड़ेगा।वहीं,परिषदकेजिलासंयोजकराहुलसिंहनेकहाकिबिहारकीशिक्षाव्यवस्थाभ्रष्टतंत्रकेसामनेनतमस्तकहोगईहै।जिसकापरिणामहैकिलाखोंयुवाओंकेभविष्यकीपरवाहकिएबिनापरीक्षारदकरनेकानिर्णयलियागयाहै।अभाविपनेतानेकहाकिमामलाहाइकोर्टमेंलंबितहै।22मईकोनिर्णयआनाथा।इसकेपहलेहीपरीक्षाकोरदकरदियागया।अभाविपनेताओंनेसरकारसेअपनेनिर्णयपरपुनविचारकरनेकीअपीलकरतेहुएकहाकियदिऐसानहींहोताहै,तोअभाविपकार्यकर्ताआंदोलनकेलिएबाध्यहोंगे।इसमामलेकोलेकरअभाविपकार्यकर्ता23मईकोकालादिवसमनाएंगे।