अपनों की बहादुरी की गाथा सुन नम हुई स्वजनों की आंखें

जागरणसंवाददाता,तरनतारन:पंजाबमेंआतंकवादकासफायाकरनेमेंजिलातरनतारनके188पुलिसअधिकारियोंऔरजवानोंनेअपनीजानकुर्बानकरदीथी।इनशहीदोंकीगाथासुनकरउनकेस्वजनोंकीआंखेंबुधवारकोएकबारफिरनमहोउठीं।अवसरथाशहीदपुलिसजवानोंकीयादमेंमनाएजानेवालेशोकपरेडदिवसका।

पुलिसलाइनमेंसुबहसातबजेशुरूहुएकार्यक्रममेंपहुंचेसांसदजसबीरसिंहडिंपा,डीआइजीहरदयालसिंहमान,एसएसपीध्रुमनएचनिंबाले,एसपीजगजीतसिंहवालिया,बलजीतसिंहढिल्लों,गुरनामसिंह,रिचाअग्निहोत्री,डॉ.अमनदीपबराड़,डीएसपीसुच्चासिंहबल्ल,इकबालसिंह,कुलजिंदरसिंह,राजबीरसिंह,जसप्रीतसिंह,लखविंदरसिंहनेशहीदपुलिसअफसरोंवकर्मियोंकोश्रद्धांजलिभेंटकी।

इसदौरानसांसदडिंपानेकहाकिआतंकवादकेखात्मेमेंपुलिसकर्मियोंकेअलावाआमलोगोंकोभीप्राणन्यौछावरकरनेपड़े।उन्होंनेकहाकिवहभीआतंकवादपीड़ितहैं।उनकेपिताएमएलएसंतसिंहलिद्दड़कोआतंकियोंनेअपनानिशानाबनायाथा।

एसडीएमरजनीशअरोड़ानेकहाकिलद्दाखसीमापरचीनकीसेनानेआजहीकेदिनसीआरपीएफकेजवानोंकोशहीदकरदियाथा।उनकीयादमें21अक्टूबरकोदेशभरमेंशहीदीदिवसमनायाजाताहै।लोगोंकोसचेतरहनेकीजरूरत:डीआइजी

डीआइजीहरदयालसिंहमाननेकहाकिबेशकआतंकवादकासफायाहोचुकाहै,लेकिनपड़ोसीमुल्कपाकिस्तानसेअभीभीचेतावनीकासामनाकरनापड़रहाहै।इसलिएलोगोंकोभीसतर्करहनेकीजरूरतहैं।देशविरोधीशक्तियांसोशलमीडियाकोहथियारकेरूपमेंइस्तेमालकररहेहैं,इसलिएलोगोंकोभीसचेतरहनेकीजरूरतहै।

डिंपानेकीपांचलाखदेनेकीघोषणा

सांसदजसबीरसिंहडिंपानेपुलिसलाइनमेंबनाईगईकैंटीनकाउद्घाटनकरतेहुएपांचलाखरुपयेदेनेकीघोषणाकी।उन्होंनेकहाकिइनशहीदोंकेलिएमैंकुछकररहाहूं,यहमेरासौभाग्यहै।शहीदोंकेपरिवारोंकीसुनींसमस्याएं

डीआइजीहरदयालसिंहमानवएसएसपीध्रुमनएचनिंबालेनेशहीदपुलिसजवानोंकेपरिवारोंकीसमस्याएंसुनीं।इसदौरानकईसमस्याओंकामौकेपरहीनिपटाराकियागया।शेषसमस्याओंकोतुरंतहलकरनेकेपुलिसअधिकारियोंकोआदेशदिएगए।कार्यक्रमकेदौरानशहीदपुलिसकर्मियोंकेपरिवारोंकेसदस्योंकोसम्मानितकियागया।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!