बैंकों की हड़ताल से दो दिनों में 70 करोड़ का कारोबार प्रभावित

जागरणसंवाददाता,खगड़िया:सेंट्रलट्रेडयूनियनकीओरसेघोषितदोदिवसीयराष्ट्रव्यापीहड़तालमंगलवारकोभीजारीरही।हड़तालकेकारणमंगलवारकोदूसरेदिनभारतीयस्टेटबैंककोछोड़करसभीबैंकोंमेंतालेलटकतेदिखे।सार्वजनिकबैंकोंवउपक्रमोंकानिजीकरण,न्यूपेंशनस्कीमकोरदकरपुरानीपेंशनस्कीमकोप्रभावीकरने,बैंकोंकेखालीपदोंकोभरकरबैकिगव्यवस्थाकोमजबूतकरने,एनपीएसमेंमूलधनमेंकीजारहीकटौतीपररोकलगानेसहितअन्यमांगोंकोलेकरसेंट्रलट्रेडयूनियननेदोदिवसीयहड़तालकाआह्वानकियाथा।

बैंकआफइंडियाकेकार्मिकएसोसिएशनकेसहायकसचिवब्रजेशकुमारनेबतायाकिदोदिवसीयहड़तालपूरीतरहसफलरही।दोदिनोंमेंजिलेमेंकरीब70करोड़काकारोबारप्रभावितरहा।अगरसरकारमांगेंमाननेकोतैयारनहींहोतीहैतोआगेअनिश्चितकालीनहड़तालहोगी।जिससेपूरीअर्थव्यवस्थाचरमराजाएगी।

बंदकेदौरानसभीबैंक,डाकघर,भारतीयजीवनबीमानिगमकेकार्यालयोंमेंकामकाजपूरीतरहसेठपरहा।कर्मचारीपोस्टर-बैनरकेसाथबैंककेमुख्यगेटकेबाहरधरनाप्रदर्शनपरबैठेरहे।इसदौरानबैंककर्मियोंनेकेंद्रसरकारकीनीतियोंकोलेकरजमकरनारेबाजीभीकी।आंदोलनकोसफलबनानेकेलिएहरबैंककीमुख्यशाखाकेबाहरआलइंडियाबैंकइम्प्लाइजयूनियनऔरबिहारबैंकइम्प्लाइजयूनियनकेपदाधिकारीपूरीतरहसेमुस्तैदरहे।हालांकिबैंकबंदहोनेकेकारणआमजनताकोकाफीपरेशानीहुई।क्योंकिलगातारचारदिनोंतकबैंकबंदरहनेकेकारणआरटीजीएस,एनइएफटीसहितनगदजमायानिकासीकाकामपूरीतरहसेबंदरहा।बैंकोंमेंचेकक्लियरेंसकाकामभीबाधितरहनेसेलोगोंकोकाफीपरेशानीहुई।प्रदर्शनमेंबैंकआफइंडियाकेब्रजेशकुमार,अभिमन्युकुमार,अभिषेककुमार,रामसकल,मनीषकुमार,अमनकुमार,अरुणकुमार,रूपेश,सुरेंद्रएवंचंदन,बैंकआफबड़ौदाकेपंकजकुमार,नरेंद्रदेव,वरुणकुमार,सुप्रियापाल,सुमनकुमार,दीपककुमार,आलोककुमार,अलखनिरंजनवर्मा,संजीतकुमारभगत,संजीवकुमारभगत,इंडियनबैंककेराजीवकुमारराय,यूनियनबैंककेएनपीयादव,रंजीतकुमार,जितेंद्रकुमार,रुपेशकुमार,मुकेशकुमारगुप्ता,राकेशकुमारपांडे,सतीशकुमार,सेंट्रलबैंककेरामाशंकरकुमार,धर्मेंद्रकुमार,पीएनबीकेसुमनकुमार,विकासकुमार,यूकोबैंककेपंकजकुमार,चंद्रमणिकुमार,अनिलरावत,अमरेंद्रकुमार,रविद्रकुमारएवंग्रामीणबैंककेअनुरागकुमार,मोनिका,नवजोत,प्रभातकुमार,वीरेंद्रठाकुरआदिशामिलथे।