छोटे मसलों की अनदेखी भाजपा के लिए कहीं फांस न बन जाए

भारतीयजनतापार्टी(भाजपा)केराष्ट्रीयअध्यक्षअमितशाह15सितंबरकोतेलंगानामेंएककार्यक्रमकोसंबोधितकरनेकेलिएमंचपरआकरजैसेहीबैठे,उन्हेंसूचनामिलीकिपश्चिमबंगालपुलिसप्रदेशकेपार्टीअध्यक्षदिलीपघोषऔरबंगालमेंसक्रियराष्ट्रीयस्वयंसेवकसंघकेएक-दोलोगोंकोकभीभीगिरक्रतारकरसकतीहै.इसखबरनेपार्टीअध्यक्षकेमाथेकीशिकनकोबढ़ादिया.विभिन्नमसलोंकोदेखते-देखतेसुलझानेकेलिएपहचानेजानेवालेशाहजिनमसलोंकीजाने-अनजानेअनदेखीकरतेरहे,अबवेहीपरेशानीकीवजहबनरहेहैं.दरअसल,भाजपासूत्रोंकेमुताबिक,पार्टीकीएकमहिलाकार्यकर्तापिछलेकईमहीनोंसेशिकायतकररहीथीकिबंगालभाजपाकेपूर्वमहासचिव(संगठन)अमलेंदुचट्टोपाध्यायऔरसंघसेजुड़ेकुछअन्यलोगउसकाशोषणकररहेहैं.

लेकिनइसमसलेपरध्याननहींदियागया.बीते31अगस्तकोआखिरकारकोलकातामेंइसमामलेमेंएफआइआरदर्जहुईऔर17सितंबरकोचट्टोपाध्यायकोगिरफ्तारकरलियागया.इसप्रकरणसेबंगालमेंभाजपाकीसंभावनाओंकोझटकालगसकताहै.भाजपाकीराज्यइकाईइसेतृणमूलकांग्रेस(टीएमसी)कीसाजिशकरारदेरहीहै,तोउसकाकेंद्रीयनेतृत्वचुप्पीसाधेहै.यहसमस्याराज्यमेंपार्टीकेखिलाफबड़ामुद्दाबनगईहै.

बंगालअकेलाराज्यनहींहै,जहांकुछमसलोंकोनजरअंदाजकरनाभाजपाकोभारीपड़गयाहै.मिसालकेतौरपर,गोवामेंभीभाजपाअसहजस्थितिमेंआगईहै.सीटोंकेमामलेमेंकांग्रेससेपीछेहोतेहुएभीसियासीमहारतदिखातेहुएभाजपानेराज्यमेंसरकारबनालीथी.

पूर्वकेंद्रीयरक्षामंत्रीमनोहरपर्रीकरकोवहांमुख्यमंत्रीबनायागया.बादमेंपर्रीकरबीमारपड़े.सूत्रोंकेअनुसार,बीतेअप्रैलमेंहीपर्रीकरनेभाजपाकेकेंद्रीयनेताओंसेनेतृत्वपरिवर्तनकीबातकीथीपरइसेटालदियागया.

अबस्थितिऐसीबनगईहैकिकहींसरकारहीनगिरजाए.कांग्रेसबार-बारराज्यपालकेयहांजाकरभाजपापरदबावबनारहीहै.मामलेकोसंभालनेकेलिएभाजपाकेसंगठनमहामंत्रीरामलालकोगोवाभेजनापड़ापरबातनहींबनी.

भाजपाअभीतकपर्रीकरकाविकल्पनहींतलाशपाईहै.पार्टीकेराष्ट्रीयमीडियाप्रभारीऔरराज्यसभासदस्यअनिलबलूनीकहतेहैं,"पर्रीकरकेअस्वस्थहोनेकेकारणकुछदिक्कतहै,परयहकोईसमस्यानहींहै.सहयोगियोंकेसाथभाजपासरकारपूरेपांचसालचलेगी.''

वहींझारखंडमें"चरणामृत''प्रकरणसेभाजपाविवादोंमेंघिरगईहै.दरअसल,गोड्डाकेसांसदनिशिकांतदूबेउसवक्तविवादोंमेंघिरगएजबभाजपाकेएककार्यकर्तापवनसाहनेदूबेकापैरधोनेकेबादउसपानीकोपीलिया.

दूबेनेखुदइसकाबखानकरतेहुएसोशलमीडियापरजानकारीदी.इसपरबवालमचगया.हालांकिभाजपानेखुदकोइसघटनासेअलगकरलियाहै.प्रदेशभाजपाअध्यक्षलक्ष्मणगिलुवानेकहा,"इसतरहकेकृत्यकोपार्टीकासमर्थननहींहै.''लेकिनउन्होंनेसांसदपरकिसीकार्रवाईसेइनकारकरतेहुएकहा,"इसबारेमेंकोईलिखितशिकायतनहींमिलीहै.शिकायतमिलेबिनाकार्रवाईनहींकीजासकती.''

जाहिरहै,इसप्रकरणनेविरोधीदलोंकोभाजपाकेखिलाफमोर्चाखोलनेकाअवसरदेदिया.झारखंडमुक्तिमोर्चा(जेएमएम)केकार्यकारीअध्यक्षहेमंतसोरेननेइसप्रकरणकोआदिवासीबनामदीकू(बाहरी)बनानाशुरूकरदियाहै.उन्होंनेकहा,"भाजपाअपनेकार्यकर्ताओंकोनेताओंकाचरणामृतपीनेपरमजबूरकररहीहै.इससेपताचलताहैकिजोबाहरसेयहांआगएहैंऔरसत्तापरकाबिजहैं,उनकीक्यासोचहै.''इससेपहलेमॉबलिंचिंगकेआरोपीयुवकोंकोकेंद्रीयउड्डयनराज्यमंत्रीजयंतसिन्हाकीओरसेसम्मानितकरनाभीपार्टीकेखिलाफमुद्दाबनगयाथा.

इसीतरह,तमिलनाडुमेंअपनीजगहबनानेकीजुगतमेंलगीभाजपाकोतबबड़ाझटकालगा,जबप्रदेशभाजपाअध्यक्षतमिलसाईसौंदराजनकीशिकायतपरछात्रालुइससोफियाकोगिरफ्तारकरलियागया.सोफियानेभाजपामुर्दाबादकेनारेलगाएथेजिसकोलेकरतमिलसाईनेशिकायतदर्जकराईथी.

भाजपाकाकेंद्रीयनेतृत्वइसप्रकरणपरभीचुप्पीसाधेबैठारहा.भाजपाकेएकमहासचिवकहतेहैं,"तमिलनाडुकीघटनाकीजानकारीकेंद्रीयनेतृत्वकोदीगईथी.उन्होंनेइसप्रकरणकोगंभीरनहींमानाऔरइससमस्यासेनिपटनेकेलिएराज्यइकाईकोअधिकृतकरदिया.यदिकेंद्रीयनेतृत्वउसीवक्तमामलेकोतूलदेनेसेमनाकरतातोयहप्रकरणसुर्खियोंमेंनहींआताऔरभाजपाकोअनावश्यकपरेशानीनहींहोती.''

वहीं,त्रिपुरामेंग्रामपंचायतउप-चुनावमें96फीसदीसीटोंपरभाजपाकानिर्विरोधचुनाजानामुद्दाबनगयाहै.राज्यकेसभीसियासीदलचुनावआयोगसेउप-चुनावकीतारीखोंकोटालनेकाआग्रहकररहेथेतोभाजपाउससेअलगरही.यहांतककिभाजपाकासहयोगीदलआइपीएफटीभीचुनावटालनेकेपक्षमेंथा.यहांनिर्विरोधचुनावकाविरोधकरवहभीभाजपाकेखिलाफबयानबाजीमेंलगगयाहै.

राजस्थानमेंभीअरसेसेटालीजातीरहीएकसमस्याबड़ामुद्दाबनरहीहै,जहांइसीसालचुनावहोनेहैं.प्रदेशअध्यक्षबदलनेकोलेकरकेंद्रीयनेतृत्वऔरमुख्यमंत्रीवसुंधराराजेएक-दूसरेकेखिलाफडटेरहे.बादमेंमदनलालसैनीकोअध्यक्षबनादियागयापरयहसमाधाननहींबल्किसमस्याटालनेजैसाथा.राजेकीचुनावीयात्रामेंसैनीहिस्सानहींलेरहेहैं.

राजेअपनेचहेतेऔरपूर्वअध्यक्षअशोकपरनामीकोअपनेसाथयात्रामेंरखरहीहैं.वहींपूर्वसांसदऔरकेंद्रीयमंत्रीजसवंतसिंहकेबेटेमानवेंद्रसिंह22सितंबरकोबाड़मेरमेंसभाकरनेवालेहैं.इसेमानवेंद्रकेशक्तिपरीक्षणकेतौरपरदेखाजारहाहै.कांग्रेसइसेभाजपाकीगुटबाजीकेरूपमेंप्रचारितकररहीहै.बिहारऔरमहाराष्ट्रजैसेराज्यजहांभाजपाअपनेसहयोगियोंकेसाथसरकारमेंहै,वहांभीगठबंधनमेंविश्वासकीकमीहै.येसमस्याएंसमयरहतेनहींसुलझीहैंऔरबड़ेमुद्दोंमेंबदलनेकेकगारपरहैं.बिहारमेंसीटबंटबारेकोलेकरसहयोगीदलोंमेंअसमंजसकीस्थितिहै.

दरअसल,भाजपानेताओंकीअनावश्यकबयानबाजी,भाजपाशासितराज्योंमेंखेमेबाजी,दलितोंऔरसवर्णआंदोलनकीजिम्मेदारीप्रदेशसरकारपरटालनेजैसेकदमोंसेअधिकतरराज्योंमेंभाजपाकेसामनेसमस्याओंकाअंबारलगनेलगाहै.कांग्रेसकेमीडियाविभागकेप्रमुखरणदीपसिंहसुरजेवालाकहतेहैं,"हरराज्यहीनहींबल्किहरजिलेऔरगांवोंतकमेंभाजपासमस्याओंसेघिरीहुईहै.पेट्रोल,डीजल,राफेल,नोटबंदी,जीएसटीतोबहुतपहलेहीसमस्याओंकीजगहमुद्देबनचुकेहैं.चरणामृतऔरभाजपाकेखिलाफनारेबाजीपरगिरफ्तारीजैसीसमस्याएंभीमोदीसरकारकेखिलाफमजबूतमुद्दाबनगईहैं.

ये2019मेंभाजपाकोसत्तासेबाहरकरनेकीवजहबनेंगी.''भाजपाकेनेताभीपरोक्षरूपसेमानतेहैंकिछोटीसमस्याओंकोअनदेखाकरनाअबभारीपडऩेलगाहै.बड़ेमुद्दोंसेमुकाबलाभलेहीयेकठिननहींहों,परयेछोटेमसलेभीघातकसाबितहोसकतेहैं.