चंवर के निचले इलाकों में मछली पालन को किया जाएगा विकसित : डीएम

छपरा:सारणजिलेकेजल-जीवन-हरियालीअभियानकीप्रगतिकीसमीक्षाशुक्रवारकोसमाहरणालयसभागारमेंजिलाधिकारीसुब्रतकुमारसेनकी।इसमेंजिलेकेचंवरवालेनिचलेक्षेत्रोंकोचिन्हितकरएवंमत्स्यपालनकेलिएइसकाविकसितकरनेकहागयागया।डीएमनेकहाकिजिलामेंनिचलीभूमिबहुतहै,जहांसालोभरपानीलगारहताहै।यहांमत्स्यपालनकीअपारसंभावनाएंहैं।इसकोलेकरजिलामत्स्यपदाधिकारीकोमत्स्यपालकोंकोप्रोत्साहितकरनेऔरसरकारकीयोजनाएंमत्स्यपालकोंकोबतानेकानिर्देशदिया।

निजीपोखरवालोंकोभीकरेंप्रोत्साहित

सारणजिलेकेनिजीपोखरकोभीप्रोत्साहितकरनेकानिर्देशगया।इसमेंकहागयाकिवैसेलोगजोमत्स्यपालनकरनाचाहतेहैंउनकेलिएनिजीपोखरकेनिर्माणपरसरकारकेद्वाराविशेषज्ञअनुदानदियाजारहाहै।साथहीमत्स्यपालनकेलिएअनुदानकीअलगसेव्यवस्थाहै।यदिलोगसमूहबनाकरकार्यकरनाचाहतेहैंतोसमूहमेंकमसेकमपांचव्यक्तियोंकाहोनाअनिवार्यहै।

तालाबनिर्माणकोले50फीसदमिलेगाअनुदान:

सारणजिलेकेलोगजिलामत्स्यपदाधिकारीनेबतायाकिमत्स्यइनपुटसहितचंवरविकासएवंतालाबनिर्माणपरनिर्धारितइकाईलागतकापचासप्रतिशतअनुदानहै।इच्छुकव्यक्तियासमूहजिलामत्स्यपदाधिकारीकेकार्यालययाउनकेमोबाइलनं.-9234596581परसंपर्ककरयोजनाकीजानकारीप्राप्तकरसकतेहैं।

जैविकखेतीकोकियाजाएगाविकसित

जल-जीवन-हरियालीसमीक्षाबैठकमेंजिलाकृषिपदाधिकारीकृष्णकुमारवर्माकोजैविककृषिकेविकासऔरइसकेनिर्धारितलक्ष्यकोप्राप्तकरनेकानिर्देशदिया।जिलाकृषिपदाधिकारीनेबतायाकिगड़खाप्रखंडमेंलगभगदोसौकिसानोंकेद्वारादोसौएकड़मेंजैविकखेतीकीजारहीहै।किसानयहाँमुख्यरुपसेसब्जीउगारहेहैं।इसपरडीएमनेकहाकिमैंस्वयंस्थलपरजाकरजैविकखेतीदेखनाचाहताहूं।उन्होनेनेकहाकियहाँजैविकखेतीकीभीआपारसंभावनाएंहैं।11,500रुपयेप्रतिहेक्टेयरकीदरसेमिलेगाअनुदान

जैविककृषिपरभीसरकार11500रुपयेप्रतिहेक्टेयरकीदरसेअनुदानदीजातीहै।डीएमकेद्वाराटपकनसिचाईकोप्रोत्साहितकरनेकानिर्देशदेतेहुएकहाकिप्रतिपंचायतकमसेकमइसकापाचआवेदनप्राप्तकियाजाए।जिलाकृषिपदाधिकारीनेबतायाकिअभीतकदसआवेदनप्राप्तहुएहैं।डीएमनेकहाकिजैविककृषिएवंटपकनसिचाईवालेप्रोजेक्टकोदूसरेकिसानोंकोभीदिखाएंऔरइसकालाभबताकरउन्हेंभीप्रोत्साहितकियाजाय।

एकलाखपौधेलगानेकारखागयाहैलक्ष्य

वनप्रमंडलपदाधिकारीकोडीएमनेपौधारोपणकरानेकानिर्देशदेतेहुएइसमाहएकलाखपौधालगानेकालक्ष्यदियागया।वनप्रमंडलपदाधिकारीकेद्वाराबतायागयाकिपौधशालामेंअभीचौदहलाखपौधेहैं।डीएमनेचिन्हितसार्वजनिकजलसंचयसंरचनाओंमेंशेषबचेसंरचनाओंकोअतिक्रमणमुक्तकरानेकानिर्देशदिया।

जलसरंचनाओंकोअतिक्रमणमुक्तकरनेकानिर्देश:

डीएमकेसमीक्षामेंपायागयाकि87फीसदजलसंरचनाओंकोअतिक्रमणमुक्तकरालियागयाहै।तालाब,पोखरएवंकुओंकेजीर्णोद्धारकेनिर्धारितलक्ष्यकोप्राप्तकरनेकेलिएकार्यमेंतेजीलानेकानिर्देशदियागया।सारणजिलेकेतालाब,पोखरएवंकुंओंसेअतिक्रमणखत्मकियाजासके।

कार्यनहींकरनेवालेपीओऔरपीआरएसहोंगेसेवामुक्त:

प्रोग्रामअधिकारी(मनरेगा)क्षेत्रमेंलागातारभ्रमणशीलरहें।जिलाधिकारीनेउपविकासआयुक्तकोनिर्देशदियागयाकिनिर्धारितलक्ष्यकेअनुरुपकार्यकोपूर्णनहींकरानेवालेपीओऔरपीआरएसकेविरुद्धकड़ीकार्रवाईकीजायऔरजरूरतहोतोसेवामुक्तभीकियाजाए।

समीक्षाबैठकमेंउपविकासआयुक्तअमितकुमार,अपरसमाहर्ताडॉ.गगन,डीआरडीएनिदेशक,वनप्रमंडलपदाधिकारी,जिलापंचायतीराजपदाधिकारी,जिलाकृषिपदाधिकारी,जिलामत्स्यपदाधिकारी,कार्यपालकअभियंता,पीएचईडीएवंअन्यजिलास्तरीयपदाधिकारीमौजूदथे।