डीआइजी की कलम से: आइसोलेशन की अनिवार्यता में मानवीय मूल्यों को सहेजने का प्रयास

अरुणमोहनजोशी,जेएनएन।इससंकटकालमेंजनपदपुलिसकाप्रभारीहोनेकेलिहाजसेएकबातजहनमेंहमेशारहतीहैकिकिसतरहआमनागरिकोंकोकोरोनासंक्रमणकेखतरेसेसुरक्षितरखाजाए।इसकेलिएकईकड़ेकदमभीउठानेपड़े,लेकिनइसबातकाहमेशाख्यालरखाकिभूलसेभीहममानवीयमूल्योंसेनभटकें।प्रयासहैकिहमजोभीकार्यकरें,उसमेसहानुभूतिऔरसंवेदनशीलताबनीरहे।यहबहुतबड़ीचुनौतीहै,क्योंकिइसतरहकायहपहलाअनुभवहै।दूनपुलिसअपनेहरदिनकीशुरुआतइसीसंकल्पकेसाथकरतीहैकिमहामारीकोरोकनेकेलिएवहसिर्फविभागीयदायित्वोंतकसीमितनरहें।बल्किमित्रता,सेवाऔरसुरक्षाकेसंकल्पकोभीचरितार्थकियाजाए।

कोरोनासंक्रमणकेबढ़तेमामलोंऔरदेशव्यापीलॉकडाउनकेबीचपुलिसहरमोर्चेपरपूरेदमखमकेसाथजुटीहै।इससंकटकालनेमुश्किलेंतोखड़ीकीहैं,लेकिनपुलिसकोनसिर्फनईजिम्मेदारीकेनिर्वहनकासाहसऔरहौसलादिया,बल्किमित्रता,सेवाऔरसुरक्षाकेसंकल्पकोसहीमायनेमेंचरितार्थकरनेकाअवसरभीमिला।यहीवजहरहीकिकोरोनासंक्रमणपरहमपारस्परिकसमन्वयसेकाफीहदतकअंकुशलगानेमेंकामयाबहुए

पुलिसकेअधिकारियोंसेलेकरसिपाहीतकअपनीजानकीपरवाहकिएबगैरकोरोनासंक्रमणकोरोकनेमेंजुटेहैं।ऐसेसमयमेंएकहीबातमनकोआहतकरतीहैऔरवहहैबिनावजहलोगोंकाघरसेनिकलनाऔरलॉकडाउनकेनियमोंकीअवहेलना।ऐसेमेंनचाहतेहुएभीहमेंसख्तकदमउठानेपड़तेहैं।लोगोंकोसमझनाचाहिएकियहप्रतिबंधउनकेजीवनकोबचानेकेलिएहै।

देहरादूनमेंजैसेहीकोरोनासंक्रमणकीशुरुआतहुई,पुलिसनेतत्कालदूसरेराज्योंसेआनेवालेसभीलोगोंकीपहचानकरउन्हेंआइसोलेटकरनेकीयोजनाबनाई।इसकड़ीमेंयहपहलाटास्कथा।इसकेबादलॉकडाउनऔरशारीरिकदूरीजैसेमानकोंकापालनकरानाथा।इसकेलिएहरउसस्थानपरपुलिसकीड्यूटीलगाईगई,जहांसेएकबड़ेक्षेत्रकोकवरकियाजासके।साथहीशहरमेंड्रोनसेनिगरानीशुरूकीगई।ताकिकमभागदौड़मेंनियमोंकाकड़ाईसेपालनसुनिश्चितकियाजासके।इसकड़ीमेंदूसरामहत्वपूर्णकदमरहा,जरूरतमंदलोगोंतकहरसंभवत्वरितसहायतापहुंचाना।उनकीजरूरतोंकीचीजेंजैसेखाना,दवाईइत्यादिकीपुलिसनेहोमडिलीवरीतककी।

यहभीपढ़ें:coronavirus:मुश्किलदौरमेंयोद्धाबनउभरेडीआइजी,नसिर्फपुलिसिंगकातरीकाबल्किसोचभीबदली

इसकार्यकोजनताकीखूबसराहनाभीमिली।हौसलाबढ़ातोकईपुलिसकर्मीजरूरतमंदऔरगरीबपरिवारोंकोइससंकटकालमेंअपनेपरिवारकाहिस्सामानतेहुएगोदलेनेकेलिएभीआगेआए।इसमुहिमकाअसरयहहुआकिदेहरादूनमेंकोईभीशख्सभूखानहींरहा।शुरुआतमेंजरूरतमंदलोगोंकीसूचनाएंएकत्रकरनेमेंदिक्कतआईतो24घंटेचलनेवालेकंट्रोलरूमकीस्थापनाकीगईसाथही,जिसकानंबरनंबर0135-2722100है।थानावारकोविड-19हेल्पडेस्कभीबनाईगई।

यहभीपढ़ें:coronavirusकोहरानेकेलिएहरमोर्चेपरएकटीमबनकियाकाम,गरीबोंकेलिएबनेमसीहा