डीएम की सख्ती से सहमे शिक्षक, छावनी में तब्दील रहा कलेक्ट्रेट

अंबेडकरनगर:अपनीमांगोंकोलेकरज्ञापनदेनेपहुंचेशिक्षकसंघकेपदाधिकारियोंकोडीएमकेआदेशपरपुलिसनेहिरासतमेंलेलिया।संगठनकेपदाधिकारीवशिक्षकडीएमकार्यालयकेसामनेधरनेपरबैठगए।वायरलेसपरइसकीसूचनामिलतेहीकलेक्ट्रेटपरिसरछावनीमेंतब्दीलहोगया।भारीसंख्यामेंपुलिसबलदेखसंघकेकईपदाधिकारीभागतेनजरआए।खुदकोबचानेकेलिएएकशिक्षकपेड़परचढ़गया।

बीते18अक्टूबरकोडीएमकेनिर्देशपरसभी1582विद्यालयोंकाएकसाथऔचकनिरीक्षणकियागयाथा।इसछापेमारीमेंकुल279शिक्षकअनुपस्थितमिलेथे।इनसभीकाएकदिनकावेतनरोकदियागयाथा।इनमेंसेकरीब70से75शिक्षकऐसेहैं,जिनकादावाहैकिउन्होंनेआनलाइनछुट्टीलेरखीथी,लेकिनविद्यालयकेरजिस्टरपरछुट्टीदर्जनहोनेकेचलतेनिरीक्षणकर्तानेअनुपस्थितदिखादियाथा।शिक्षकसंघकाकहनाथाकिनिरीक्षणकेलिएबनाएगएचार्टमेंउपस्थितऔरअनुपस्थितकाकालमथा,लेकिनआकस्मिकअवकाशकाकोईकालमनहींथा।इन्हींसबमांगोंकाज्ञापनलेकरशिक्षकसंघकेपदाधिकारीशुक्रवारकोजिलाधिकारीसैमुअलपॉलएनकेकार्यालयपहुंचे।डीएमनेसभीसेएकसाथमिलनेसेमनाकरदियाऔरकहाकिदो-चारशिक्षकआकरअपनीबातरखें।इसपरपदाधिकारियोंनेनाराजगीव्यक्तकरतेहुएहल्लामचानाशुरूकरदिया।इसीबीचचैंबरसेबाहरनिकलेडीएमनेजूनियरशिक्षकसंघकेजिलाध्यक्षओमकारप्रसादपांडेयएवंकर्मचारीशिक्षकअधिकारीपेंशनर्समंचकेजिलाध्यक्षबृजेशमिश्रकोहिरासतमेंलेनेकानिर्देशदेनेकेसाथहीपुलिसकंट्रोलरूममेंवायरलेसकरदिया।चंदमिनटोंमेंहीवहांपुलिसअधीक्षकआलोकप्रियदर्शीकेसाथसीओसिटीअशोककुमारतथाशहरकोतवालअमितप्रतापसिंहभारीपुलिसबलकेसाथआपहुंचे।पुलिसबलकोदेखधरनेपरबैठेकईपदाधिकारीवशिक्षकभागनेलगे।जूनियरशिक्षकसंघकेसंरक्षकघनश्यामतिवारीनेकहाकिशिक्षकोंकेसाथइसप्रकारकाव्यवहारअमानवीयहै।जिलाधिकारीकोहमारीबातेंगंभीरतापूर्वकसुननीचाहिएथी,लेकिनउन्होंनेऐसाकरनेसेइन्कारकरदिया।इसदौरानमधुकरपांडेय,राकेशवर्मा,सत्येंद्रशेखरमिश्र,सतनकुमार,राजेशकुमार,अरुणकुमारयादव,धर्मेंद्रकुमार,अनिलयादव,अनूपतिवारी,अखिलेशकन्नौजिया,समसुद्दीनजुमा,सलाउद्दीनसमेतअन्यपदाधिकारीऔरशिक्षकमौजूदरहे।शिक्षकोंसेशांतिपूर्णतरीकेसेआकरअपनीबातरखनेकोकहागयाथा,लेकिनवेकार्यालयकेसामनेहल्ला-गुल्लाकरनेलगे,जिन्हेंनियंत्रितकरनेकेलिएपुलिसबुलानीपड़ी।उनकीजोभीजायजमांगेंहै,उसपरविचारकरकार्रवाईकीजाएगी।सैमुअलपॉलएन,जिलाधिकारी