दस सेकेंड में श्रवण को गोली मार 50 लाख नौ हजार रुपये लूट ले गए बदमाश

जागरणसंवाददाता,यमुनानगर:

एचडीएफसीबैंकमें50लाखनौहजाररुपयेजमाकरानेआयापुरानाहमीदानिवासीश्रवणकुमारकोजिससमयगोलीमारीगई।उसदौरानसड़कपरपूरीचहलपहलथी।करीब100मीटरकीदूरीपरमहाराणाप्रतापचौकपरट्रैफिकथानापुलिसवहोमगार्डड्यूटीपरथे।इसकेबावजूदबदमाशवारदातकरभागनिकले।वारदातकोभीसेकेंडोंमेंअंजामदियागया।जिसतरहसेवारदातकीगई।उससेअंदेशायहीलगायाजारहाहैकिबदमाशोंकोकैशकेबारेमेंपूरीजानकारीथी।हालांकिजबपुलिसनेघटनास्थलवउसकेआसपासकीसीसीटीवीफुटेजखंगाली,तोउसमेंबदमाशोंकेहावभावएसआइपरगोलीचलानेवालेबदमाशोंसेमेलखारहेहैं।

परिवारकेमुताबिक,श्रवणसुबहघरसेसाढ़ेआठबजेनिकलाथा।वहपहलेफैक्ट्रीगया।वहांसेउसेव्यापारीअजयबंसलनेघरबुलालियाथा,ताकिवहबैंकमेंकैशजमाकरसके।यहांसेवहकरीबसवानौबजेव्यापारीकेघरपहुंचगयाथा।इसकेबादपैसालेकरबैंकमेंजमाकरानेकेलिएचलदिया।जिसएचडीएफसीबैंकमेंवहपैसाजमाकरानेगयाथा।चौककेपासहोनेकीवजहसेवहांपरवाहनोंकीभीड़रहतीहै।ऐसेमेंश्रवणनेअपनीगाड़ीथोड़ादूरीपरखड़ीकीथी।तभीकरीबदसबजेयहवारदातहोगई।

सीसीटीवीफुटेजमेंदिखरहाहैकिएकबदमाशमुंहपरमास्कलगाएहुएहैं।वहआकरएकबाइकपरबैठताहै।तभीश्रवणइनोवाकारलेकरआताहै।जैसेहीवहबैंककीओरकोचलनेलगताहै,वैसेहीबदमाशउसकीतरफकोचलदेताहै।वहउससेबैगछीननेकीकोशिशकरताहै।जिसमेंदोनोंकेबीचहाथापाईभीहोतीहै।इतनेमेंबदमाशउसेगर्दनसेसटाकरगोलीमारदेताहै।जिससेश्रवणमौकेपरहीगिरपड़ताहैऔरबदमाशअपनेएकअन्यसाथीकेसाथबैठकरकन्हैयासाहिबचौककीओरफरारहोजाताहै।गोलीकीआवाजसुनतेहीआसपासकेलोगएकत्रहोजातेहैं।इतनेमेंबैंककेकर्मचारीभीबाहरआजातेहैं।वहउसेअपनीगाड़ीमेंडालकरनिजीअस्पतालमेंदाखिलकरातेहैं।पुलिसकेखिलाफस्वजनोंमेंगुस्सा:

जैसेहीअस्पतालमेंश्रवणकीमौतहुई।स्वजनोंकारो-रोकरबुराहालहोगया।स्वजनोंमेंपुलिसकेखिलाफगुस्साथा।यहांतकआरोपलगाएगएकिपुलिसकेसामनेयहहत्याहुईहै।पुलिसबदमाशोंसेमिलीहुईहै।श्रवणकीपत्नीआशावअन्यस्वजनोंनेमौकेपरमौजूदडीएसपीकोभीकाफीभलाबुराकहा।यहांतककिएकडीएसपीकेसाथआशाकीझड़पतकहोगई।किसीतरहसेअन्यलोगोंनेउन्हेंशांतकिया।किसीतरहसेयहांसेशवकोसिविलअस्पतालमेंपोस्टमार्टमहाउसमेंभिजवायागया।मृतकश्रवणकेचाचाकैलाशकाकहनाथाकिहत्यारोंकोपुलिसपकड़करउनकेसामनेपेशकरें।यदियहघटनाकिसीपुलिसवालेकेसाथहोती,तोअबतकबदमाशोंकोपकड़लियागयाहोता।पुलिसकीहीलापरवाहीसेघटनाहुईहै।वहींपोस्टमार्टमहाउसपरमृतककेस्वजनोंकोसांत्वनादेनेमेयरमदनचौहान,भाजपानेताजंगेशरसिंहवव्यापारमंडलकेप्रदेशाध्यक्षमहेंद्रमित्तलपहुंचे।महेंद्रमित्तलनेकहाकिजिलेमेंक्राइमबढ़रहाहै।पुलिसकुछनहींकरपारहीहै।अजयबंसलकाबीपीहुआहाई,अस्पतालमेंहुएदाखिल:

व्यापारीअजयबंसलकोजैसेहीश्रवणकीहत्याव50लाखनौहजाररुपयेकैशलुटनेकापतालगा,तोवहतुरंतगाबाअस्पतालमेंपहुंचे।जहांस्वजनोंनेउनपरभीगंभीरआरोपलगादिए।यहांतककहाकिबिनासिक्योरिटीकेकैशजमाकरानेभेजदिया।उसकीवजहसेहीश्रवणकीहत्याहुईहै।यहांपरअजयबंसलकाबीपीहाईहोगया।जिससेउनकीतबीयतबिगड़गई।जिसपरउन्हेंभीअस्पतालमेंदाखिलकरानापड़ा।पुलिसनेउनसेइतनेकैशकेबारेमेंभीपूछा,तोअजयबंसलनेबतायाकिश्रवणउनकाकाफीवफादारनौकरथा।वहबिल्कुलपरिवारकेमेंबरकीतरहथा।तीनदिनतकबैंकबंदरहनेकीवजहसेकैशइकट्ठाहोगयाथा।वैसेरोजानारूटीनमेंसुबहकेसमयकैशजमाकरायाजाताथा।दोकारें,सातटैंपोऔर30नौकर:

व्यापारीअजयबंसलकेपासपेप्सीवबोतलबंदपानीकीएजेंसीहै।उनकेपासदोकारेंहैंऔरसातटैंपोंहै।जिनपरनौड्राइवरहैं।इसकेअलावाउनकीफैक्ट्रीमें30नौकरकार्यकरतेहैं।पुलिसअबइनसबसेभीजानकारीजुटारहीहै।यहभीजाननेकाप्रयासकियाजारहाहैकिश्रवणबैंकमेंगयाहै।यहजानकारीकिसकिसकोथी।श्रवणकेपासएकबेटावबेटी:

श्रवणकेपिताअभिलाषचौरसियामूलरूपसेउत्तरप्रदेशकेदेवरियाकेगांवमुंडेराजगदीशकेरहनेवालेहैं।वहकरीब45सालपहलेयहांपरआगएथे।यहींपरनिजीकंपनीमेंनौकरीकरतेथे।अबसेवानिवृत्तहोनेकेबादवापसचलेगएथे,जबकिश्रवणवउसकाभाईहीरालालयहीपररहरहेथे।मृतकश्रवणकाभाईहीरालालसब्जीबेचनेकाकार्यकरताहै।जबकिश्रवणकाबेटाराहुलदुबईमेंनौकरीकरताहै।बेटीशालूचंडीगढ़मेंपढ़रहीहै।करीब15दिनपहलेश्रवणकेघरसे60हजाररुपयेभीचोरीहोगएथे।