गुंडों को न बनाए अपना रोल माडल : रवि दहिया

जागरणसंवाददाता,बाहरीदिल्ली:पुलिसकेलिएसबसेजरूरीहोताहैकिअपराधकीसूचनाउसेतत्कालमिले,इससेअपराधकोबढ़नेसेरोकाजासकताहै।इसकेलिएपुलिसवस्थानीयलोगोंमेंजुड़ावहोनासबसेज्यादाजरूरीहै।इसीकेमद्देनजरकंझावलाथानेकेएसएचओजरनैलसिंहकीओरसेग्रामीणपुलिससहयोगसमितिकागठनकियागयाहै।समितिकीओरसेमाजराडबासगांवमेंअपराधकीओरजारहेयुवाओंकोमुख्यधारासेजोड़नेवअपनारोलमाडलचुनतेसमयसावधानरहनेकेलिएएककार्यक्रमआयोजितकियागया।इसदौरानओलिंपिकपदकविजेतारविदहिया,न्यायधीशसिद्धार्थमाथुरवप्रेसकाउंसिलआफइंडियाकेसदस्यआनंदराणामुख्यअतिथिकेरूपमेंपहुंचे।

रविदहियानेबतायाकिछत्रसालस्टेडियममेंउनकेसबसेपहलेकोचस्वर्गीययशवीरडबासमाजराडबासगांवसेहीथे।उन्होंनेअपनेबचपनकेदिनोंकेयादकरतेहुएकहाकिउनकीइससफलतामेंसबसेज्यादायोगदानउनकेमाता-पिताकाहै।उन्होंनेहीउन्हेंपहलवानीकरनेकेलिएप्रेरितकियावअसामाजिकतत्वोंसेबचाया।रविदहियानेकहाकिबच्चेकेभविष्यमेंमाता-पिताकासर्वोपरियोगदानहोताहै।इसलिएबच्चोंकोउनकाकहनामाननाचाहिएवगुंडेवबदमाशोंकोअपनारोलमाडलनहींबनानाचाहिएबल्किउत्क‌र्ष्ठकार्यकरनेवालोंसेसीखलें।

न्यायधीशसिद्धार्थमाथुरनेकहाकियुवाओकेसाथ-साथबुजुर्गोंकोभीजागरूकहोनेकीजरूरतहै।उनकेआसपासकाकोईबच्चागलतहरकतकरतायाअसामाजिकतत्वोंकेसाथमिलताहैतोउसकोडांटनाचाहिए।साथहीअपनीबोलीसेजुड़ारहनाचाहिए।वहींआनंदराणानेकहाकिजबतकस्थानीयलोगपुलिसकीसहायतानहींकरेंगे,तबतकपुलिसअपराधकोखत्मनहींकरसकती।इसलिएजोभीइलाकेकेबदमाशहैंउन्हेंरोलमाडलनबनाएं।साथहीअपनेगांवसेजुड़कररहें।इसदौरानरोहिणीजिलापुलिसउपायुक्तप्रणवतायलनेभीयुवाओंकोअपराधियोंकोनहींबल्किरविदहियाजैसेदेशकानामरोशनकरनेवालेयुवाओंकोआदर्शबनानेकोकहा।