हत्या के गुनहगारों को आजीवन कारावास

विधिसंवाददाता,आजमगढ़:हत्याकेमुकदमेमेंसुनवाईपूरीकरनेकेबादअदालतनेचारआरोपियोंकोआजीवनकारावासतथाजुर्मानेकीसजासुनाई।यहफैसलाअपरसत्रन्यायाधीशकोर्टनंबरआठअनिलकुमारवर्माकीअदालतनेदिया।

अभियोजनकेअनुसारवादीअशोककुमाररामनिवासीअसीलपुर,थानानिजामाबादकेभाईकैलाशरामतीनजुलाई2017कीशामसाढ़ेपांचबजेवादीकेलड़केपिटूकेसाथमोटरसाइकिलसेघरआरहेथे।तभीगांवकेपासहीपुरानीरंजिशकोलेकरलालबहादुरराम,शैलेशतथामुकेश,संतलालनिवासीअसीलपुरनेकैलाशकोरोककरगालीदी।जबकैलाशनेएतराजकियातबसभीआरोपितोंनेकैलाशकोबुरीतरहसेलाठीसेमारा-पीटा।शोरगुलसुनकरवादीअशोककीपत्नीसीतादेवीतथाकैलाशकीपत्नीमीनादेवीमौकेपरपहुंचींतोआरोपितोंनेसीतादेवीतथामीनादेवीकोभीबुरीतरहसेमारा-पीटा।घायलकैलाशकोजिलाअस्पताललेजातेसमयरास्तेमेंहीमौतहोगई।पुलिसनेजांचपूरीकरनेकेबादसभीचारोंआरोपितोकेविरुद्धचार्जशीटन्यायालयमेंप्रेषितकरदिया।सहायकशासकीयअधिवक्ताश्रीशकुमारचौहाननेअशोकराम,सीता,संगीता,मीना,योगेंद्रप्रसाद,राजाराम,कांस्टेबलयोगेंद्रयादव,हेडकांस्टेबलअरविदयादव,एसएसआइगिरजेशसिंह,एसएसआइसुरेंद्रयादव,चीफफार्मासिस्टयशवंतप्रसाद,चीफफार्मासिस्टश्रीकांतचतुर्वेदी,डा.शाहआलम,डा.राजेंद्रकुमार,कांस्टेबलओमप्रकाश,हेडकांस्टेबलअरविदकुमारकोबतौरसाक्षीन्यायालयमेंपरीक्षितकराया।दोनोंपक्षोंकीदलीलोंकोसुननेकेबादअदालतमेंआरोपितलालबहादुरराम,शैलेश,मुकेशतथासंतलालकोआजीवनकारावासतथाप्रत्येकको15500रुपयेजुर्मानेंकीसजासुनाई।