जाति के आधार पर किसी तरह का भेदभाव स्वीकार्य नहीं: आरएसएस

नईदिल्लीराष्ट्रीयस्वयंसेवकसंघ(RSS)नेशुक्रवारकोकहाकिउसेजातिकेआधारपरकिसीभीतरहकाभेदभावस्वीकारनहींहैऔरवहसभीकेलिए'एकमंदिर,एककुआंऔरएकश्मशानभूमि'कापक्षधरहै।RSSकेप्रचारप्रमुखअरुणकुमारनेएकबयानमेंकहाकिसंघप्रेमऔरसद्भावकीबुनियादपरएकजोड़नेवालेसमाजकेनिर्माणकेलिएकामकररहाहै,जहांहरकोईबिनाकिसीजातिगतभेदभावकेसद्भावकेसाथरहे।कुमारनेकहा,'हमजातिकेआधारपरकिसीभीतरहकेभेदभावकोस्वीकारनहींकरते।अपनीस्थापनाकेबादसेहीRSSएकमंदिर,एककुआंऔरएकश्मशानभूमिकाहिमायतीरहाहै।'उन्होंनेउनमीडियारिपोर्ट्सको'निराधारऔरगुमराहकरनेवाले'बतातेहुएखारिजकरदियाजिसमेंकहागयाथाकिसंघप्रमुखमोहनभागवतनेगुरुवारकोदिल्लीमेंएकआंतरिकबैठकमेंकहाकिबीजेपीनेताओंकेदलितोंकेघरजानाऔरउनकेसाथखानासमुदायकेउत्थानकेलिएपर्याप्तनहींहैंऔरनेताओंकोदलितोंकोभीअपनेघरबुलानाचाहिए।कुमारनेजोरदेकरकहा,'दिल्लीमेंपिछलेकुछदिनोंकेदौरानऐसीकोईबैठकहुईहीनहींजिसमेंबीजेपीकेग्रामस्वराजअभियानकेबारेमेंकहागयाहो।'