जिला अस्पताल का निरीक्षण करने नहीं पहुंची कायाकल्प की टीम

जागरणसंवाददाता,ऊधमपुर:राज्यकेअस्पतालोंमेंप्रतिस्पर्धाकेलिएएकबारफिरतैयारियांशुरूहोगईहैं।कायाकल्पयोजनाकेतहतऊधमपुरजिलाअस्पतालकानिरीक्षणकरनेकेलिएटीमकोऊधमपुरआनाथा,लेकिनकाफीइंतजारकेबावजूदटीमनहींआसकी।

बतादेंकिकेंद्रसरकारकीकायाकल्पयोजनाकेतहतअस्पतालोंकाचयनकियाजाताहै।इसयोजनाकेतहतअस्पतालमेंउपलब्धसुविधाओंकेसाथहीउनसुविधाओंकीस्थिति,उपकरणोंकीस्थितिकेसाथहीअस्पतालमेंसफाईव्यवस्थाआदिकीजांचभीकीजातीहै।पूर्वकेवर्षोमेंअस्पतालमेंउपलब्धसुविधाओंकेहिसाबसेकुल500नंबरोंमेंटीमनंबरदेतीहै।हरसुविधाकोलेकरदोसेचारनंबरोंमेंसेनंबरप्रदानकिएजातेहैं।

वर्ष2016-17मेंऊधमपुरजिलाअस्पतालकोराज्यकासर्वश्रेष्ठजिलाअस्पतालचुनागयाथा।इसकेतहतअस्पतालको50लाखरुपयेपुरस्कारकेरूपमेंप्रदानकिएगएथे।वर्ष2017-18केलिएटीमकोजम्मूसेसोमवारकोआनाथा,लेकिनदोपहरतकइंतजारकरनेकेबादभीटीमनहींपहुंचसकी।हालांकिटीमकेआगमनकीसूचनामिलनेपरजिलाअस्पतालमेंसभीव्यवस्थाओंकेसाथहीसफाईव्यवस्थाभीबेहतरकीगईथी।

जिलाअस्पतालकेचिकित्साअधीक्षकडॉ.विजयकुमारबसनोत्रानेबतायाकिटीमकोसोमवारकोअस्पतालमेंआनाथा,लेकिनटीमकेकुछसदस्योंकेजम्मूमेंआयोजितप्रशिक्षणमेंव्यस्तहोनेकेकारणटीमसोमवारकोनहींआसकी।उन्होंनेउम्मीदजताईकिअबटीमकेबुधवारकोआनेकीउम्मीदहै।मानाजारहाहैकियदिइसबारभीजिलाअस्पतालकायाकल्पमेंअव्वलरहताहैतोउसेफिरसेपुरस्कारकेरूपमेंभारीभरकमधनराशिमिलसकतीहै।