जम्मू कश्मीर पुलिस को गुमशुदगी और अपहरण के मामलों को गंभीरता से लेने की जरूरत है

औद्योगिकक्षेत्रबड़ीब्राह्मणाकेमीरसरकारगांवमेंनौसालकेबच्चेकीउसीकेजूतेकेफीतेसेगलाघोंटकरहत्याकिएजानेकीघटनादिलदहलादेनेवालीहै।बेशकपुलिसइसहत्याकांडकोविभिन्नपहलुओंसेजांचकररहीहै,लेकिनपुलिसबच्चेकीगुमशुदगीकीरिपोर्टकोगंभीरतासेलेतीतोउसकीजानबचसकतीथी।बच्चेकोआखिरीबारचारमार्चकोगांवमेंविवाहसमारोहसेपहलेआयोजितमाताकेजगरातेमेंदेखागया।ब्लाइंडमर्डरकीयहपहलीघटनानहींहै,एकमाहपूर्वहीरानगरइलाकेमेंआठसालकीबच्चीकागलारेतकरहत्याकीगईथी।उसकाशवभीगांवमेंबनेशेडमेंछहदिनबादमिलाथा।पुलिसकीपड़तालमेंदेरीकीवजहकईबारमासूमोंकीजिंदगीजोखिममेंपड़जातीहै।

गुमशुदगीऔरअपहरणकेमामलोंकोगंभीरतासेलेनेकीजरूरतहै।पुलिसभीऐसीशिकायतोंकोशुरुआतमेंनजरअंदाजकरतीदिखतीहै।पहलेपुलिसशिकायतकर्ताओंकोबच्चोंकोस्वयंढूंढनेकेलिएयहकहकरजोरदेतीहैकिबच्चाआसपासअपनेरिश्तेदारोंकेयहांगयाहोगा।खुदआजाएगा,घरवालेभीउनकीदबिशकेआगेबेबसदिखतेहै।समाजमेंपुलिसकोअपनीछविसुधारनेकीजरूरतहै।पुलिसस्टेशनलोगोंकेलिएहै,ताकिवेअपराधमुक्तसमाजकीनींवरखसके।पिछलेएकमाहमेंदोनाबालिगोंकीहत्याओंकीगुत्थीअभीसुलझनहींपाईहै।यहपुलिसकेलिएचुनौतीसेकमनहींहै।जांचमेंविलंबसेलोगोंकाविश्वासकमहोताहै।ढुलमुलजांचअपराधियोंकेहौसलेभीबढ़ातीहै।इससेक्राइमग्राफभीबढ़ताहै।दोनोंब्लाइंडमर्डरपुलिसकेलिएचुनौतीसेकमनहींहैं।मौजूदासमयमेंसाइंटिफिकतरीकेसेबड़ेसेबड़ेअपराधकीगुत्थीकोसुलझायाजासकताहै।पुलिसअगरजांचमेंविलंबकरेगीतोहत्याजैसेसंगीनमामलेकोसुलझानाकाफीमुश्किलहोजाएगा।अगरहत्याओंकीयहगुत्थीनहींसुलझीतोसमाजभीपुलिसकोसंदेहकीनजरसेदेखेगा।बेहतरतोयहहोगाकिइनदोनोंमामलोंकीजांचपुलिसकीविशेषजांचकमेटीसेकरवाईजाए।पुलिसकोअपनीकार्यप्रणालीमेंभीबदलावलानेकीजरूरतहै।

[स्थानीयसंपादकीय:जम्मू-कश्मीर ]