जरायम की दुनिया का एक अध्याय समाप्त, पुलिस को मिली राहत

अंबेडकरनगर:अकबरपुरकोतवालीकेशातिरबदमाशवहिस्ट्रीशीटरकीगुरुवारकोसड़कहादसेमेंमौतहोगई।इससेजरायमकीदुनियाकाएकअध्यायसमाप्तहोगया।पुलिसनेभीराहतकीसांसली।

गांवमीरमलूकपुरकाआदिलखानउर्फलंगड़पुलिसअभिलेखोंमेंएकशातिरवपेशेवरअपराधीथा।इसकेखिलाफविभिन्नथानोंमेंलूट,छिनैती,चोरी,प्राणघातकहमले,आ‌र्म्सएक्ट,गुंडाएक्ट,गैंगस्टरजैसेसंगीनअपराधके33मुकदमेदर्जहैं।वहदोबारअदालतकीलाकअपवपुलिसअभिरक्षासेफरारहोचुकाथा।गतवर्षअकबरपुरकोतवालीकीखिड़कीतोड़करपुलिसअभिरक्षासेफरारहोगयाथा।अकबरपुरकोतवालीमेंदर्जअपहरणकेएकमुकदमेमेंवहवांछितचलरहाथा।इसपरईनामघोषितकरनेकीप्रक्रियाचलरहीथी।तलाशीकेक्रममेंकईबारउसकेसंभावितठिकानोंपरदबिशदीगई,लेकिनहरबारवहचकमादेकरभागनिकला।दोमाहपहलेशिवबाबामंदिरमेंपुलिसनेघेराबंदीकीतोअंधेरेकाफायदाउठाकरवहभागनिकला।

वर्ष2002मेंवहउससमयसुर्खियोंमेंआया,जबऔलियापुरनिवासीरामफलकोघरमेंघुसकरगोलीमारीथी।वर्ष2003मेंस्वाटपरफायरिगकरफरारहोगया।इसमेंएकसिपाहीगोलीलगनेसेघायलहोगयाथा।उसकेखिलाफअकबरपुरकोतवालीमें16,सम्मनपुरथानेमेंनौ,मालीपुरमेंपांच,अयोध्याजिलेकेगोशाईंगंजथाने,इब्राहिमपुरतथाअकबरपुरजीआरपीमेंएक-एकसमेतकुल33मुकदमेदर्जहैं।इसकेआपराधिकइतिहासकोदेखतेहुएअधिकारियोंनेअकबरपुरकोतवालीमेंहिस्ट्रीशीटखोली।कोतवालअमितप्रतापसिंहनेइसकीपुष्टिकीहै।

दुर्घटनामेंचलीगईथीटांग:एकघटनाकेदौरानउसकाएकपैरजख्मीहोगयाथा।इससेवहलंगड़नामसेकुख्यातहोगया।लंगड़होनेकेबावजूदथानोंकीदीवार,खिड़कीतोड़नाउसकेबाएंहाथकाखेलथा।दोपहियावाहनबहुतचतुराईसेचलाताथा।तेजरफ्तारवाहनकोसंतुलिततरीकेसेपलकझपकतेहीमोड़करफरारहोनेमेंमाहिरथा।