कांग्रेस ने अयोध्या मामले में मध्यस्थता समिति के गठन का स्वागत किया, भाजपा पर निशाना साधा

नयीदिल्ली,आठमार्च(भाषा)कांग्रेसनेअयोध्यामामलेमेंसर्वमान्यसमाधाननिकालनेकेमकसदसेउच्चतमन्यायालयद्वारातीनसदस्यीयसमितिगठितकिएजानेकाशुक्रवारकोस्वागतकियाऔरआरोपलगायाकिभाजपानेराजनीतिकलाभकेलिएपिछले27वर्षोंसेआस्थासेजुड़ेमुद्देकाराजनीतिकरणकियाहै।पार्टीकेमुख्यप्रवक्तारणदीपसुरजेवालानेएकबयानमेंयहभीकहाकिइसमामलेमेंउच्चतमन्यायालयजोभीफैसलाकरताहैवहीअंतिमहोनाचाहिएऔरउसेसभीपक्षोंकोमाननाचाहिए।उन्होंनेकहा,‘‘हमउच्चतमन्यायालयकीओरसेमध्यस्थतासमितिगठितकिएजानेकास्वागतकरतेहैं।’’सुरजेवालानेभाजपापरनिशानासाधतेहुएकहा,‘‘दुखदहैकिभाजपानेआस्थासेजुड़ेविषयकाराजनीतिकलाभकेलिए27वर्षोंसेराजनीतिकरणकियाहै।1992सेभाजपानेइसमुद्देकोजीवितरखाहैताकिइसेहरचुनावमेंवोटहासिलकरनेकेलिएइस्तेमालकियाजासके।’’उन्होंनेदावाकिया,‘‘चुनावकेबादभाजपाराममंदिरकेमुद्देकोकिनारेलगादेतीहैऔरचुनावकेसमयउसेफिरसामनेलादेतीहै।हमआशाकरतेहैंकिदेशकीजनताभाजपाकेदोहरेपनकोसमझेगी।’’गौरतलबहैकिउच्चतमन्यायालयनेराजनीतिकदृष्टिसेसंवेदनशीलरामजन्मभूमि-बाबरीमस्जिदभूमिविवादकासर्वमान्यसमाधानखोजनेकेलियेशुक्रवारकोशीर्षअदालतकेपूर्वन्यायाधीशएफएमआईकलीफुल्लाकीअध्यक्षतामेंतीनसदस्यीयमध्यस्थतासमितिगठितकरदी।इससमितिकोआठसप्ताहकेभीतरमध्यस्थताकीकार्यवाहीपूरीकरनीहै।प्रधानन्यायाधीशरंजनगोगोईकीअध्यक्षतावालीपांचसदस्यीयसंविधानपीठनेअपनेआदेशमेंकहाकिमध्यस्थताकेलियेगठितसमितिकेअन्यसदस्योंमेंआध्यात्मिकगुरूश्रीश्रीरविशंकरऔरवरिष्ठअधिवक्ताश्रीरामपांचूशामिलहैं।पीठनेकहाकिसमिति,आवश्यकताहोतो,इसमेंऔरसदस्यशामिलकरसकतीहै।