कदम-कदम पर मरीजों को उठानी पड़ी परेशानी

देवरिया:102व108एंबुलेंसचालकरातकेबारहबजेसेसोमवारकोअनिश्चितकालीनहड़तालपरचलेगए।जिससेमरीजोंकोपूरादिनपरेशानीकासामनाकरनापड़ा।एंबुलेंसचालकोंवकर्मियोंकीमांगहैकिउन्हेंतीनमाहसेमानदेयनहींमिलरहाहैऔरसुविधाएंनहींमिलरहीहै।मांगोंकेपूराहोनेकेबादहीएंबुलेंसचालकहड़तालसेवापसआएंगे।उधरहड़तालकेचलतेगंभीररूपसेबीमारमरीजोंकोपरेशानीकासामनाकरनापड़ा।लोगअपनेनिजीवाहनवप्राइवेटवाहनोंसेमरीजोंकोजिलाअस्पतालकीइमरजेंसीतकवजिलाअस्पतालसेमेडिकलकालेजगोरखपुरतकलेगए।गरीबमरीजोंकोआर्थिकरुपसेकाफीकठिनाईयोंकासामनाकरनापड़ा।

जीवनदायिनीस्वास्थ्यविभागकी108,102एंबुलेंसकर्मचारीसंघकेतत्वावधानमेंशीर्षनेतृत्वकेआह्वानपरजनपदकेसभीएंबुलेंसचालकवसहायकभीअनिश्चितकालीनहड़तालपरचलेगए।सभीएंबुलेंसचालकअपनावाहनसोनूघाटकेसमीपएकत्रितकरवहांरणनीतिबनातेरहे।यहांमुख्यरूपसेजुबेर,रमायनयादव,उत्तममिश्र,संजयपांडेय,आरकेयादव,अमितकुमार,पंकजकुमार,विश्रामचौधरी,अजीतकुमार,वरुणयादवआदिमौजूदरहे।जनपदमेंकुल108व102एंबुलेंसकीसंख्या102है।जिसमें18वाहनबननेकेलिएखड़ेहैं।शेषहररोजमरीजोंकोढोतीहैं।

प्राइवेटवाहनोंसेइमरजेंसीपहुंचेमरीज

जिलाचिकित्सालयमेंगंभीररूपसेघायलवमरीजअपनेनिजीसाधनोंकेअलावामोटरसाइकिलवकिराएकेसाधनोंसेजिलाअस्पतालकीइमरजेंसीपहुंचे।लक्ष्मीगुप्तापुत्रीरमानरायननिवासीखुदियामिश्रकीतबीयतखराबथीउसेपरिजनटेंपोसे,बसंतीदेवीपत्नीपारसमिश्रनिवासीमाहीगंज,रमावतीदेवीपत्नीचितामझौलीवार्डनम्बर,उर्मिलापुत्रीसुनीलनिवासीलक्ष्मीपुरप्राइवेटवाहनोंसेजिलाअस्पतालइमरजेंसीपहुंचेऔरउनकाइलाजहुआ।पूरेजनपदमेंअस्पतालोंतकमरीजोंकोजानेमेंपरेशानीकासामनाकरनापड़ा।