खिलाड़ियों की प्रतिभा निखारे में आड़े नहीं आएगी धन की कमी

राष्ट्रीयअंतरजिलाजूनियरएथलेटिक्सप्रतियोगिताकेदौरानऊंचीकूदकीस्पर्धामेंकांस्यपदकप्राप्तकरनेवालेजिलेकेएथलीटवबिक्रमगंजकेदीडीपीएसकेछात्ररितेशकोडीएमपंकजदीक्षितनेसम्मानितकिया।उन्होंनेविजेताएथलीटकोमेडलऔरट्रैकसूटभेंटकरसम्मानितकिया।साथहीऔरबेहतरप्रदर्शनकरनेकेलिएउत्साहितभीकिया।

डीएमनेकहाकिअगरपूरीलगनसेमेहनतकीजाएतोएकदिनअवश्यहीप्रतिभाराष्ट्रीयवअंतरराष्ट्रीयफलकपरअवश्यनिखरतीहै।इसेरितेशनेसचकरदिखायाहै।विद्यालयकीप्रशिक्षकश्वेतासिंहसेबातचीतकरप्रशिक्षणमेंआनेवालीकठिनाइयोंकेबारेमेंजानकारीली।इसदौरानरितेशनेऊंचीकूदकीस्पर्धामेंऊंचीकूदकीजंपिगपीटकीकमीकोमुख्यरूपसेअसफलताकाकारणबतास्वर्णपदकसेचुकनेकीमुख्यवजहबताई।रितेशनेकहाकिअगरहमारेपासजंपिगपीटकागद्दाहोतातोनिश्चितरूपसेमेराअभ्यासबहुतहीअच्छाहोताऔरमैंजिलेकेलिएस्वर्णपदकप्राप्तकरता।जिसेगंभीरतासेलेतेहुएडीएमनेजिलाखेलपदाधिकारीकोहाईजंपपीटखरीदनेकाआदेशदिया।जिससेएथलीटोंकोअपनीतैयारीकरनेमेंसहूलियतहोसके।रितेशबिक्रमगंजकेमिल्कीगांवकेविजयसिंहकापुत्रहै।फिलहालवहडिवाइनपब्लिकस्कूलबिक्रमगंजकाछात्रहै।उसनेअपनीसफलताकाश्रेयविद्यालयकेसहनिदेशकअखिलेशकुमारकोदेताहै।इसअवसरपरजिलाएथलेटिक्ससंघकेसचिवविनयकृष्ण,संयुक्तसचिवरानूकुमारसिंह,संघकेउपाध्यक्षमनीषकुमारसिंह,शरदचंद्रसंतोष,उमेशश्रीवास्तव,धर्मेंद्रयादव,उपेंद्रकुमार,अरविदकुमारसिंह,मनोजकुमारसिंह,सत्येंद्रकुमार,मनीषकुमारसमेतअन्यउपस्थितथे।