Lok Sabha Polls 2019: तब फील गुड के बाद भी चुनाव हार गए थे दुखा भगत

लोहरदगा,[राकेशकुमारसिन्हा]।1999सेलेकरसाल2004तकभारतीयजनतापार्टीकाफीबेहतरस्थितिमेंथी।ऐसालगरहाथा,मानोभाजपाएकबारफिरसफलताकापरचमलहराएगी।भाजपानेतबफीलगुडकानारादियाथा।लोहरदगालोकसभाक्षेत्रकेसभीगांवमेंनुक्कड़नाटकमंडलीकेमाध्यमसेफीलगुडकानारादेतेहुएआमलोगोंकेबीचभाजपाकीउपलब्धियोंकोपहुंचानेकाकामकियागयाथा।

बावजूदइसकेभाजपाअपनीहारनहींबचापाईथी।वर्ष1999केलोकसभाचुनावमेंभारतीयजनतापार्टीकेटिकटपरदुखाभगतनेइंद्रनाथभगतकोहराकरसांसदकीसीटछीनलीथी।इसचुनावमेंदुखाभगतकोएकलाख63हजार658वोटप्राप्तहुएथे।जबकिइंद्रनाथभगतकोएकलाख59हजार835वोटमिलेथे।

इसचुनावकेबादसाल2004मेंजबलोकसभाकाचुनावहुआतोऐसालगरहाथाकिदुखाभगतफिरएकबारसांसदचुनेजाएंगे।तबविपक्षीदलोंनेअपनेचुनावप्रचारकेदौरानकहांथेदुखासाढ़ेचारसालकानारादेतेहुएभाजपाऔरदुखाभगतकेखिलाफअभियानछेड़दिया।बावजूदइसकेभाजपाकोभरोसाथाकिफीलगुडकेनारेकेबीचभाजपायहचुनावजरूरजीतलेगी।

साल2004मेंजबचुनावहुआतोदुखाभगतबड़ेअंतरसेकांग्रेसकेरामेश्वरउरांवकेहाथोंहारगए।इसचुनावमेंडॉ.रामेश्वरउरांवकोदोलाख23हजार920वोटमिलेथे।जबकिदुखाभगतकोमात्रएकलाख33हजार665वोटसेसंतोषकरनापड़ाथा।भारतीयजनतापार्टीकेलिएयहकरारीहारथी।साल2004केचुनावमेंमिलीइसहारकोभाजपाभुलानहींपारहीथी।

हालांकिसाल2009केचुनावमेंसुदर्शनभगतनेभाजपाकेटिकटपरचुनावजीतकरफिरएकबारलोहरदगालोकसभासीटभारतीयजनतापार्टीकीझोलीमेंडालदियाथा,परंतुसाल2004केचुनावमेंमिलीहारनेभाजपाकोएकसबकदेदियाथा।लोहरदगालोकसभासीटकेमतदाताओंनेयहबतादियाथाकिकेंद्रकीराजनीतिसेउन्हेंकोईसरोकारनहींहै।उन्हेंतोबसएकऐसाप्रतिनिधिचाहिएजोउनकेबीचसमयदेकरउनकीसमस्याओंकासमाधानकरसके।