महिला अपराध के मामलों में सख्त कार्रवाई की गई: धारीवाल

जयपुर,नौमार्च(भाषा)राजस्थानकेसंसदीयकार्यमंत्रीशांतिकुमारधारीवालनेबुधवारकोविधानसभामेंकहाकिराज्यमेंमहिलाओंकेखिलाफअपराधोंकेमामलोंमेंसख्तकार्रवाईकीगईहैऔरअनिवार्यप्राथमिकीव्यवस्थाकेमाध्यमसेकमजोरवर्गकोन्यायमिलाहै।उन्होंनेकहाकिपुलिसविभागमेंसहायकउपनिरीक्षकके3500अतिरिक्तपदसृजितकिएगएहैंजिससेकांस्टेबलकीपदोन्नतिकेअवसरबढ़ेंगे।धारीवालगृहमंत्रीकीओरसेविधानसभामेंपुलिसविभागकीअनुदानमांगोंपरहुईबहसकाजवाबदेरहेथे।चर्चाकेबादपुलिससेसंबंधितअनुदानमांगोंकोध्वनिमतसेपारितकरदियागया।मंत्रीनेकहा,‘‘राज्यमेंनिर्बाधएफआईआरपंजीकरणकेमाध्यमसेकमजोरवर्गकेलोगोंकोफायदाहुआहै।अपराधमेंवृद्धिहोनाऔरपंजीकरणहोनादोनोंमेंबहुतअन्तरहै।’’उन्होंनेबतायाकि2013केमुकाबले2019मेंअपराध14प्रतिशतहीबढ़ाथा,यानीप्रतिवर्षकेवल2.3प्रतिशतबढ़ाथा।यहएकसामान्यवृद्धिहैऔरराष्ट्रीयऔसत22प्रतिशतसेभीकमहै।लेकिनयहइसलिएहुआक्योंकिइनवर्षोंमेंनिर्बाधएफआईआरपंजीकरणनहींहुआथा।मौजूदासरकारकेआनेकेबादनिर्बाधएफआईआरपंजीकरणहोनेसे2018कीतुलनामें2019मेंवृद्धिहुई।धारीवालनेकहाकिनिर्बाधप्राथमिकीपंजीकरणकोसख्तीसेलागूकरनेकेलिएपुलिसअधीक्षककार्यालयसेथानोंकीजांचकरनेकेलिएअभियानभीचलायेगए।धारीवालनेकहाकिकोविड-19केसमयमेंपुलिसकर्मियोंकीजिम्मेदारीकोसदैवयादरखाजायेगा।कोरोनामहामारीकेसमयपुलिसनेअभूतपूर्वहौसलादिखायाहै।नेशनलक्राइमरिकॉर्डब्यूरो(एनसीआरबी)केआंकड़ोंकाहवालादेतेहुएउन्होंनेकहाकिहिंसकअपराधकेमामलोंमेंउत्तरप्रदेशपूरेदेशमेंप्रथमस्थानपररहाहै,जहांराजस्थानकेमुकाबलेदुगनेसेभीज्यादाहिंसकघटनाएंहुईहै।हत्या,दहेज,अपहरणजैसेअपराधोंमेंभीउत्तरप्रदेशशीर्षस्थानपररहाहै।उन्होंनेकहाकिराजस्थानमें2017-18मेंबलात्कारजैसेअपराधोंमें30प्रतिशतसेअधिकपीड़ितमहिलाओंकोप्रकरणदर्जकरानेकेलिएअदालतजानापड़ताथा।इसमेंगततीनसालोंमेंलगातारगिरावटआईहै।