मरीज की 'सांस' को चालू बंद करता तीमारदार

आगरा,जागरणसंवाददाता।एसएनमेडिकलकालेजऔरजिलाअस्पतालमेंसोमवारकोमरीजोंकीलंबीलाइनलगीरही।ऐसेमेंएसएनकेटीबीएंडचेस्टडिपार्टमेंटमेंसांसउखड़नेपरमरीजकोआक्सीजनभीतीमारदारकोहीलगानीपड़ी,यहांवार्डबायनहींमिले।

जिलाअस्पतालमेंओपीडीकेपर्चेकेलिएमरीजोंकीलंबीलाइनलगीरही,सुबह11बजेमरीजोंकीसंख्याअधिकहोनेपरपर्चेबनवानेकेलिएधक्का-मुक्कीहुई।डाक्टरकेचेंबरकेबाहरभीमरीजोंकीलंबीलाइनलगीरही।मोतियाबिदकेआपरेशनकेलिएपहुंचेमरीजोंकोआगेकीतिथिदीगई।जिलाअस्पतालमें1900सेअधिकमरीजओपीडीमेंआए।

एसएनकीओपीडीमेंभीमरीजोंकीसंख्याअधिकरही।यहां700सेअधिकमरीजोंकोपरामर्शदियागया।एसएनकेटीबीएंडचेस्टडिपार्टमेंटमेंभर्तीकासगंजनिवासीमल्टीड्रगरजिस्टेंस(एमडीआर)टीबीकीमरीजप्रीतिकोधूपमेंस्वजनबाहरनिकाललाए।सांसउखड़नेपरपतिगंगाधरनेहीआक्सीजनलगाई,कुछदेरबादहालतठीकहोनेपरखुदहीआक्सीजनबंदकरनीपड़ी।यहांभर्तीअन्यमरीजोंकेतीमारदारोंकोभीवार्डब्वायकाकामकरनापड़रहाहै।प्राचार्यडा.संजयकालानेबतायाकिवार्डबायक्योंनहींथा,इसकीजांचकराईजाएगी।मोतियाबिदकाआपरेशनकरानाहै,दोदिनसेचक्करलगारहीहूं,कोईकुछबताहीनहींरहाहै।

बटुलनबेगम,मुस्तफाक्वार्टर,जिलाअस्पतालगर्दनमेंपरेशानीथी,सुबहआगएथे।ओपीडीकेपर्चेबनवानेऔरडाक्टरसेपरामर्शलेनेमेंएकघंटालगगया।

अनन्या,ईदगाह,जिलाअस्पतालकमदिखाईदेताहै,दूसरीबारदिखानेआएहैं,बाजारकीदवाएंलिखदीहैं।हास्पिटलसेदोदवामिलीहैं।

रामखिलाड़ीकोटलाबगीची,जिलाअस्पतालपेटमेंदर्दरहताहै,ओपीडीकापर्चाबनवानेकेलिएलंबीलाइनमेंलगनापड़ा,धक्का-मुक्कीहुई।पर्चेकेलिएअतिरिक्तकाउंटरखोलनेचाहिए।

शंकरलाल,टेढ़ीबगिया,जिलाअस्पताल