मसनखावां घटना में शामिल आरोपितों पर कड़ी कार्रवाई की मांग

बिहारराज्यअनुसूचितआयोगकेपूर्वअध्यक्षविद्यानंदविकलनेगुरुवारकोमसनखावांगांवकादौराकिया।जहांकथितदबंगोंद्वाराप्रताड़ितअनुसूचितसमुदायकेपीड़ितोंकेघरजाकरउनकाहाल-चाललियातथाउनकापक्षजाना।तत्पश्चातवेवारिसलीगंजथानापहुंचेऔरसंबंधितपुलिसपदाधिकारियोंसेउक्तमामलेमेंअबतकहुईकार्रवाईकेबारेमेंजाना।श्रीविकलकेसाथराष्ट्रीयदलितमानवाधिकारअभियानकेविद्यानंदनराम,धर्मदेवपासवान,एक्शनएडकेपंकजश्वेताभ,शाहदावादीआदिभीसाथथे।

थानापरिसरमेंपत्रकारोंसेबातचीतकेक्रममेंआयोगकेपूर्वअध्यक्षश्रीविकलनेकहाकिउक्तगांवमेंअनुसूचितजातिकेबच्चोंकेसाथबर्बताकीगईहै।घटनामेंशामिलसभीनामजदोंकीगिरफ्तारीवअज्ञातआरोपितोंकोचिन्हितकरकड़ीकार्रवाईकरनेकीमांगपुलिसअधिकारियोंसेकीगईहै।बतादेंकि02जुलाई19कोमसनखावांग्रामीणविशेश्वररविदासका19वर्षीयपुत्रराजीवकुमारतथासुनीलदासकापुत्रसागरकुमारहिन्दूदेवी-देवताओंकीचित्रोंकेसाथआपत्तिजनकहरकतकरतेहुएखुदहीफोटोऔरवीडियोबनावायरलकरदियाथा।जिसपरभड़केकुछग्रामीणयुवकोंनेदोनोंयुवकोंकासिरमुंडनकरजूताचप्पलकामालापहनाकरगांवकीगलियोंमेंघुमायाथा।सूचनापरपहुंचीपुलिसनेदोनोंकोअपनीअभिरक्षामेंलेलियाथा।बादमेंएसआइरूदलठाकुरकेआवेदनपरमामलादर्जकरदोनोंकोजेलभेजदियागयाथा।दूसरीओरपीड़ितयुवककेपिताविशेश्वररविदासकेआवेदनपरमसनखावाकेछ:युवकोंकोनामजदव30-35अज्ञातकोआरोपितबनातेहुएमुकदमादर्जकियागयाथा।जिसकेआलोकमेंनामजदआरोपितअर्जुनयादवकेपुत्रसचिनकुमारकोपुलिसगिरफ्तारकरजेलभेजचुकीहै।