पाकिस्‍तान में चर्चा, क्या इमरान इस बार भी लाहौर में हारेंगे या इतिहास बदलेंगे?

लाहौर। पाकिस्तानतहरीक-ए-इंसाफ(पीटीआइ)केअध्यक्षइमरानखानइसबारलाहौरसमेतपांचजगहोंसेचुनावमैदानमेंउतरेहैं।उन्हेंलाहौरसेकभीजीतनसीबनहींहुई।यहांसेवहजितनीबारचुनावलड़े,उन्हेंहारकासामनाकरनापड़ाहै।लाहौरसेउनकेफिरचुनावलड़नेपरसियासीगलियारेमेंइसबातकोलेकरचर्चाचलरहीहैकिक्याइमरानइसबारभीलाहौरमेंहारेंगेयाइतिहासबदलेंगे?

लाहौरमेंपाकिस्तानकीसंसदनेशनलअसेंबली(एनए)की13सीटेंहैं।यहशहरनवाजशरीफकीपार्टीपीएमएल-एनका1990सेगढ़बनाहुआहै।इमरानइसबारयहांकीएनए-131सीटसेचुनावमैदानमेंउतरेहैं।उनकामुकाबलापीएमएल-एनउम्मीदवारख्वाजासादरफीकसेहै।

इमरानने1996मेंपीटीआइकीस्थापनाकीथी।इसकेबाद1997मेंहुएआमचुनावमेंउन्होंनेलाहौरकीदोसीटोंसेकिस्मतआजमाईथी,लेकिनउन्हेंबुरीतरहहारकासामनाकरनापड़ाथा।इसकेबाद2002केचुनावमेंउन्हेंलाहौरकीएनए-122सीटसेहारकामुंहदेखनापड़ा।2013केआमचुनावमेंभीलाहौरमेंउनकीकिस्मतनहींबदली।तबवहदूसरीसीटोंपरतोजीतगएलेकिनलाहौरमेंफिरहारगएथे।