पांच किमी. के दायरे में होगा बालिकाओं का परीक्षा केंद्र

जागरणसंवाददाता,औरैया:उत्तरप्रदेशमाध्यमिकशिक्षापरिषद,बोर्डपरीक्षाकरानेकीतैयारियोंमेंजुटगयाहै।पांचदिसंबरतकसभीकेंद्रोकाऑनलाइनब्यौरामांगागयाहै।परीक्षाकेंद्रोबननेकेबाददिव्यांगवबालिकाओंकोपांचकिमी.केदूरीकेअंदरहीपरीक्षाकेंद्रहोगा।सभीकालेजोंमेंरैंपअनिवार्यरुपसेबनायाजाएगाजिसेसदिव्यांगछात्र-छात्राओंकोदिक्कतनहो।यूपीबोर्डपरीक्षाकेकेंद्रबनानेकेलिएनीतिकाप्रारूपशासनसेमाध्यमिकशिक्षाविभागकोप्राप्तहोगयाहै।इसमेंबालिकाओंऔरदिव्यागपरीक्षार्थियोंकेलिएस्वकेंद्रयाफिरपाचकिमीकेदायरेमेंपरीक्षाकेंद्रबनानेकोकहागयाहै।दिव्यांगविद्यार्थियोंकोसीएमओद्वाराजारीप्रमाण-पत्रदेखकरहीस्वकेंद्रकीसुविधाप्रदानकरेगें।

ग्रामीणइलाकोमेंछात्रोंकीतुलनामेंछात्राओंकीसंख्याकमहोतीहै,जबकिदिव्यांगछात्रोंकीसंख्यातोऔरभीकमहोतीहै।शासनकेनिर्देशानुसारछात्राओंऔरदिव्यांगोंकेलिएस्वकेंद्रयापांचकिमीकेदायरेमेंपरीक्षाकेंद्रबनानाहोगा।विभागकीकोशिशहोगीकिस्वकेंद्रसेबचाजाए।कारणस्वकेंद्रपरनकलविहीनपरीक्षाकरानाविभागकेलिएचुनौतीबनजाताहै।इसलिएआसपासकेगांवमेंपरीक्षाकेंद्रबनायाजासकताहै।जिससेकिसीतरहकादबावनहींरहताहै।जिसकॉलेजमेंदिव्यांगछात्रबोर्डपरीक्षादेंगे,उसपरदिव्यांगोंकेलिएरैम्पबनवानीहोगी,ताकिदिव्यांगपरीक्षार्थियोंकोकिसीतरहकीअसुविधानहो।वर्जन:

दिव्यांगवबालिकाओंकासेंटरपांचकिमी.केदायरेकेअंदरहीहोगा।इनकेलिएस्वकेंद्रकीव्यवस्थाकीजहांपरकालेजदूरहैतोपांचकिमी.केदायरेकेअंदरहीकेंद्रकाचयनकियाजाएगा।नकलविहीनपरीक्षाकरानेकेलिएबेहतरतैयारीकीजाएगी।

ह्रदयनरायनत्रिपाठी,जिलाविद्यालयनिरीक्षक