पेटलावद का गुनहगार है जिंदा, मगर..

मध्यप्रदेशकेझाबुआजिलेकेपेटलावदमेंपिछलेमाहहुएविस्फोटमेंमारेगए78लोगोंकागुनहगारराजेंद्रकासवाजिंदाहै,मगरपुलिसकीगिरफ्तसेअबभीदूरहै।पुलिसअपनेसक्रियहोनेकादावाकररहीहै,मगरकासवाकेनपकड़ेजानेसेउसकीसक्रियताभीसवालोंकेघेरेमेंआगईहै।सवालउठरहाहैकिक्यापुलिसइतनीअक्षमहैकिवह78लोगोंकीमौतकेलिएजिम्मेदारशख्सकोभीनहींपकड़सकती?

पेटलावदमें12सितंबरकोजिलेटिनछड़ोंकेगोदाममेंहुएविस्फोटमें78लोगमारेगएथे,मौतोंकेआंकड़ेकोलेकरअरसेतकभ्रमकीस्थितिरही।पुलिसऔरप्रशासननेपहलेमौतोंकाआंकड़ा89बताया,लेकिनएकपखवाड़ेबादयहसंख्या78होगई।इनमेंसे74मृतकोंकीपहचानकरलीगई,लेकिनचारअबभीअज्ञातहैं,जिनकेशवइंदौरकेएमवाईअस्पतालमेंसुरक्षितरखेगएहैं।

हादसेकेबादएकअफवाहनेजोरपकड़ाथाकिमुख्यआरोपीराजेंद्रकासवाभीविस्फोटमेंमारागया,इसकीहकीकतजाननेपुलिसनेमृतकोंकेशवऔरकासवाकेपरिजनोंकाडीएनएटेस्टकराया।विस्फोटकीजांचकेलिएबनेविशेषजांचदल(एसआईटी)कीप्रमुखसीमाअल्वानेशनिवारकोआईएएनएसकोबतायाकिसागरफॉरेंसिकलैबसेजांचरिपोर्टनिगेटिवआईहै,इसकाआशयसाफहै,मृतकोंमेंकासवानहींहै।

अल्वानेआगेबतायाकिविस्फोटकेबादकीकार्रवाईमेंराजेंद्रकेदोभाईऔरविस्फोटककीआपूर्तिकरनेवालाधर्मेद्रगिरफ्तारकियाजाचुकाहै,वहींराजेंद्रकीतलाशमेंकईस्थानोंपरदबिशदीगईहै,मगरसफलतानहींमिलीहै।

विस्फोटकेबादइसेमुख्यमंत्रीशिवराजसिंहचौहाननेगंभीरतासेलेतेहुएकासवापरएकलाखकाइनामघोषितकियाथा,इतनाहीनहींवहस्वयंभीदोदिनतकपेटलावदमेंरहकरपीड़ितोंकेघरतकगएथे।साथहीलोगोंकोभरोसादिलायाथाकिआरोपीजल्दसलाखोंकेपीछेहोगा।हादसेकोहुएलगभगएकमाहकावक्तगुजरगयाहै,मगरकासवापुलिसकीगिरफ्तसेदूरहै।

हादसेकेबादकांग्रेसकेप्रदेशाध्यक्षअरुणयादवनेजहांकासवाकोभाजपाकाकार्यकर्ताबतायाथा,वहींभाजपाकेप्रदेशाध्यक्षनंदकुमारसिंहचौहाननेकासवाकोकांग्रेसनेताकांतिलालभूरियाकाकरीबीकरारदियाथा।साथहीदोनोंओरसेकासवाको‘राजनीतिकसंरक्षण’प्राप्तहोनेकीभीबातकहीगई।यहभीपढ़े– झाबुआविस्फोट:मृतकोंकीसंख्या88,आरोपीपरलाखरुपयेइनाम

विस्फोटकीएकतरफन्यायिकजांचचलरहीहैतोदूसरीओरएसआईटीजांचमेंजुटीहै।उसकेबादभीकासवापुलिसकीपकड़सेदूरहै।यहीबातकईसवालखड़ेकरतीहै।क्याकासवाकातंत्रपुलिससेमजबूतऔरसक्रियहै,क्याउसेआजभीराजनीतिकसंरक्षणहै,क्यापुलिसउसेपकड़नानहींचाहतीयाप्रभावशालीलोगउसेपकड़नेनहींदेरहेहैंयाकासवाकोनपकड़नेकाकोईराजनीतिकफरमानहैयापुलिसकीअपनीथ्योरीहै।

वैसेतोराज्यकीपुलिसकोसरकारसेलेकरपुलिसकेअफसरतकसक्रियताकाप्रमाण-पत्रदेतेरहतेहैं,राज्यमेंडकैतोंकेखात्मेसेलेकरसिमीकेनेटवर्ककोसमाप्तकरनेकाश्रेयइसीपुलिसकेखातेमेंजाताहै,मगरकासवाअबभीफरारहै।अबदेखनाहोगाकिपुलिसझाबुआ-रतलामलोकसभाक्षेत्रमेंप्रस्तावितउपचुनावसेपहलेयाबादमेंकासवाकोपकड़पातीहैयानहीं।