फर्जी प्रमाण पत्र प्रकरण में चिकित्सक के बयान दर्ज

अमरोहा:पश्चिमीबंगालकेतीनलोगोंकेफर्जीप्रमाणपत्रबनवानेकेमामलेमेंपुलिसनेजांचतेजकरदीहै।शुक्रवारकोतीनोंआरोपितोंकोशरणदेनेवालेडॉ.आरएनविश्वासनेथानेपहुंचकरअपनेबयानदर्जकराए।पुलिसनेदोघंटातकचिकित्सकसेपूछताछकीपरंतुचिकित्सककेबयानसेपुलिससंतुष्टनहींहुई।अबइसमामलेमेंपुलिसप्रमाणपत्रबनवानेवालोंकीतलाशकरेगी।

14दिसंबरकोथानापुलिसनेमूलरूपसेपश्चिमीबंगालनिवासीतीनलोगोंकोगिरफ्तारकरजेलभेजाथा।उनकेपाससेरजबपुरकेअलावाकिठौरवग्रेटरनोएडाकेपतेसेबनाएगएफर्जीप्रमाणपत्रमिलेथे।तीनोंलोगोंकोकस्बेमेंरहनेवालेडॉ.आरएनविश्वासनेअपनेघरपरठहरायाथा।इसमामलेमेंपुलिसनेडॉ.विश्वासकोनोटिसजारीकरबयानदर्जकरानेकोकहाथा।गुरुवारकोवहथानेनहींपहुंचेथे।

शुक्रवारकोडॉ.विश्वासथानेपहुंचेतथाअपनेबयानदर्जकराए।दोघंटेतकपुलिसनेउनसेपूछताछकीपरंतुडॉ.विश्वाससंतोषजनकजवाबनहींदेसके।हालांकिपुलिसनेबयानदर्जकरनेकेबादउन्हेंभेजदियाहै।अबपुलिसइसमामलेमेंफर्जीप्रमाणपत्रजारीकरानेमेंआरोपितोंकीमददकरनेवालोंकीतलाशमेंजुटगईहै।

प्रभारीनिरीक्षकनीरजकुमारनेबतायाकिडॉ.आरएनविश्वासकेबयानदर्जकरलिएगएहैं।अबआरोपितोंकोफर्जीप्रमाणपत्रजारीकरानेवालोंकीतलाशशुरूकीजाएगी।