पिता के साये से बाहर निकले सुखबीर, लेकिन सफर अभी लंबा है

चडीगढ़,10मार्च(भाषा)इससालकापंजाबविधानसभाचुनावशिरोमणिअकालीदल(शिअद)प्रमुखसुखबीरबादलकेलियेअग्निपरीक्षाकेरूपमेंआया,क्योंकिउन्होंनेअपनेपिताऔरपार्टीकेसंरक्षकप्रकाशसिंहबादलकीसक्रियभागीदारीकेबिना100सालपुरानीपार्टीकासंचालनकरनेकीजिम्मेदारीसंभाली।पंजाबमें2012केविधानसभाचुनावमेंशिरोमणिअकालीदलकीजीतकाश्रेयअक्सरसुखबीरबादल(59)कोदियाजाताहै।सुखबीर2008मेंशिअदकेअध्यक्षबनेऔरतबवहपार्टीकेसबसेकमउम्रकेप्रमुखथे।उनकीराजनीतिकपारीकीशुरूआतकरीबदोदशकसेभीपहलेहुयीजबवहफरीदकोटलोकसभाक्षेत्रसेदोसालकीअवधिमेंदोबारचुनावजीते।सुखबीरपूर्वप्रधानमंत्रीअटलबिहारीबाजपेयीकेमंत्रिमंडलमेंउद्येागराज्यमंत्रीथे।इसकेबादवहपंजाबकेउपमुख्यमंत्रीबने।यहउनकापहलाचुनावथा,जबउन्होंनेअपनेपिताकेसायेसेबाहरनिकलकरपार्टीकानेतृत्वकिया।सुखबीरकेपिताप्रकाशसिंहबादलकोविडमहामारीएवंअधिकउम्रहोनेकेकारणकमहीसार्वजनिकरूपसेदिखतेहैं।इसबारशिरोमणिअकालीदलकासबकुछदांवपरथाऔरसुखबीरबादलअपनीपार्टीमेंनयीजानफूंकनेकीउम्मीदकररहेथे।साल2017मेंहुयेपिछलेविधानसभाचुनावमेंसुखबीरबादलनीतपार्टीतीसरेस्थानपरचलीगयीथी।पार्टीकोतबराज्यकी117सदस्यीयविधानसभामेंसिर्फ15सीटपरजीतमिलीथी।इसबारपार्टीकाप्रदर्शनसबसेनिचलेस्तरपरपहुंचगयाहै।अबतकपार्टीकेवलदोसीटजीतीहैऔरएकपरआगेहै।सुखबीरस्वयंभीजलालाबादविधानसभासीटसेचुनावहारगयेहैं।कुछहीमहीनेपहलेपार्टीनेकृषिकानूनकेमुद्देपरभारतीयजनतापार्टीकेसाथमतभेदकेबाद24सालपुरानागठबंधनतोड़लियाथा।इसचुनावमेंपार्टीनेमायावतीकीअगुवाईवालीबहुजनसमाजपार्टीकेसाथगठबंधनकियाथा।सुखबीरनेलगभगपूरेप्रदेशकीयात्राकीऔर2007से2017केबीचउनकीपार्टीनीतसरकारद्वारादससालमेंकियेगयेविकासकार्योंकीयादलोगोंकोदिलायी।इसबारपंजाबविधानसभाचुनावमेंबहुकोणीयमुकाबलाथाऔरइसकेलियेसुखबीरनेचुनावसेपहलेहीउम्मीदवारोंकेनामकीघोषणाकरदीथी।इसबातकोभीलेकरचुटकीलीगयीकिपार्टीमेंमुख्यमंत्रीपदकाचेहराकौनहोगा।सुखबीरखुदकोइसपदकेदावेदारकेतौरपरदेखरहेथे।उन्होंनेशिअदकोपंजाबकी‘‘अपनीपार्टी’’केतौरपरपेशकियाथा।फिरोजपुरसेसांसदसुखबीरनेअपनेसालेऔरपार्टीकेवरिष्ठनेताबिक्रमसिंहमजीठियाकोअमृतसरपूर्वसेमैदानमेंउतारदिया,जहांसेप्रदेशकांग्रेसअध्यक्षनवजोतसिंहसिद्धूचुनावमैदानमेंथे।इसकेबादपूरेप्रदेशकीनजरइससीटपरटिकगयी।सुखबीरनेहिमाचलप्रदेशकेसनावरस्थितलॉरेंसस्कूलसेपढ़ाईकी।इसकेबादउन्होंने1985मेंपंजाबविश्वविद्यालयसेस्नातकोत्तरकीपढ़ाईकी।आगेकीशिक्षाकेलियेवहअमेरिकाचलगयेऔरउन्होंने1991मेंकैलिफोर्नियास्टेटयूनिवर्सिटीसेएमबीएकिया।सुखबीरकीपत्नीहरसिमरतकौरबादलनरेंद्रमोदीनीतकेंद्रसरकारमेंकैबिनेटमंत्रीथीं,जिन्होंनेकृषिकानूनोंपरमतभेदकेबादकेंद्रीयमंत्रिमंडलसेइस्तीफादेदियाथा।दोनोंकीदोबेटियांऔरएकबेटाहै।सुखबीरबादल1996,1998एवं2004मेंफरीदकोटसेलोकसभाकेलियेनिर्वाचितहुयेथे।वह2009मेंपंजाबकेउपमुख्यमंत्रीबनेऔरउपचुनावमेंजलालाबादसेविधायकनिर्वाचितहुये।सुखबीरइसकेबाद2012एवं2017मेंजलालाबादसेविधानसभाकेलियेपुन:निर्वाचितहुए।उन्होंने2019मेंलोकसभाकाचुनावलड़ाऔरफिरोजपुरसीटसेसांसदबने।