पंजाब यूनिवर्सिटी प्रशासन बैकफुट पर, तीन लाख स्टूडेंट्स आनलाइन ही देंगे दिसंबर सेमेस्टर परीक्षा

डा.सुमितसिंहश्योराण,चंडीगढ़

पंजाबयूनिवर्सिटीकीदिसंबरमेंप्रस्तावितपरीक्षाओंकोलेकरप्रशासनबैकफुटपरदिखरहाहै।पुख्तासूत्रोंकेअनुसारपंजाबयूनिवर्सिटीनेयूटर्नलेतेहुएसेमेस्टरपरीक्षाएंआनलाइनहीकरानेपरसहमतिदेदीहै।इससंबंधमेंअभीअधिकारिकतौरपरनोटिसजारीनहींहुआहै,लेकिनप्रशासनकेउच्चअधिकारियोंकीबैठकमेंइसमामलेमेंलगभगअंतिमफैसलालेलियागयाहै।अगलेएकदोदिनकेभीतरआनलाइनसेमेस्टरपरीक्षाएंकरानेकोलेकरनोटिफिकेशनजारीकरदियाजाएगा।दिसंबरमेंप्रस्तावितअंडरग्रेजुएटऔरपोस्टग्रेजुएटकक्षाओंकेकरीबतीनलाखस्टूडेंट्सपरीक्षाओंमेंअपीयरहोंगे।

पिछलेदिनोंसेपीयूनेसेमेस्टरपरीक्षाएंआनलाइनकराएजानेकेफैसलेकेखिलाफस्टूडेंट्ससड़कोंपरविरोध-प्रदर्शनकररहेथे।मामलेमेंपीयूकुलपतिकेनिर्देशपर13सदस्योंकीकमेटीगठितकीगई।कमेटीकेसदस्योंकीसोमवारकोअनौपचारिकतौरपरबैठकहुई,जिसमेंचंडीगढ़केसाथहीपंजाबकेभीविभिन्नकालेजोंकेप्रिसिपलकोसुझावदेनेकेलिएबुलायागयाथा।पुख्तासूत्रोंकेअनुसारकमेटीकेसामने80फीसदसेअधिकप्रिसिपलनेदिसंबरपरीक्षाओंकोआनलाइनकरानेकासुझावदियाहै।

22दिसंबरसेहोनीथीपरीक्षाएं

सूत्रोंकेअनुसारपंजाबयूनिवर्सिटीऔरअंडरग्रेजुएटपरीक्षाएं22औरपोस्टग्रेजुएटपरीक्षाएं27दिसंबरसेप्रस्तावितथी।पीयूप्रशासनने10दिनपहलेहीआनलाइनपरीक्षाकरानेकानोटिफिकेशनजारीकरदिया,जिसकेबादछात्रसंगठनोंनेविरोधकरतेहुएकहाकिअगरकक्षाएंआनलाइनलगरहीहैंतोपरीक्षाभीआनलाइनहोनीचाहिए।उधर,पंजाबयूनिवर्सिटीप्रशासनअभीकैंपसकोपूरीतरहआफलाइनकरनेकेलिएतैयारनहींहै।सभीस्टूडेंट्सकोकोविडप्रोटोकालकेतहतसिगलरूमदेपानामुमकिननहींहैं।ऐसेमेंपीयूप्रशासनकेसामनेअबआनलाइनपरीक्षाकेअलावाकोईविकल्पनहींबचा।परीक्षाओंकोलेकरडेटशीटअगलेहफ्तेतकफाइनलहोजाएगी।परीक्षासेजुड़ीखासबातें

यूजीऔरपीजीकेकुलस्टूडेंट्स-करीबतीनलाख

पीयूकैंपसमेंकुलस्टूडेंट्स-16हजार

यूनिवर्सिटीस्कूलआफओपनलर्निग(यूसोल)-22हजार

कुलएफिलिएटेडकालेज-195

कालेजोंकेकुलस्टूडेंट्स-करीबदोलाख

परीक्षाकमसे-22दिसंबरसेजनवरी2022तकआनलाइनपरीक्षामेंजमकरहोरहीनकल

देशकीटापयूनिवर्सिटीरहीपंजाबयूनिवर्सिटीलगातारअपनीसाखगवांरहीहै।एकतरफपीयूकीरैंकिगलगातारगिररहीहैतोदूसरीतरफआनलाइनपरीक्षासेपीयूकास्टेटसकमहोरहाहै।आनलाइनपरीक्षाओंमेंजमकरनकलहोरहीहै।पीयूकेलिएनकलपररोकलगापानामुमकिननहींहै।पिछलीपरीक्षामेंभीकाफीयूएमएसकेसबनचुकेहैं।जिसकेबादपीयूप्रशासननेआफलाइनपरीक्षाकरानेकाफैसलालिया,लेकिनस्टूडेंट्सकेविरोधकेसामनेपीयूनेयूटर्नलेलियाहै।