परिषदीय स्कूलों की निगरानी में होगी आसानी, शिक्षा में आएगा सुधार

परिषदीयस्कूलोंकीनिगरानीमेंहोगीआसानी,शिक्षामेंआएगासुधार

जागरणसंवाददाता,बांदा:परिषदीयविद्यालयोंकीनिगरानीमेंअबआसानीहोगीऔरइससेशैक्षिकस्तरमेंभीसुधारआएगा।शासननेखंडशिक्षाअधिकारियोंऔरजिलासमन्वयकोंकोविद्यालयोंकेनिरीक्षणकेलिएचारपहियावाहनरखनेकीस्वीकृतदेदीहै।वहवाहनमेंहरमाह30-30हजाररुपयेखर्चकरसकेंगे।

जनपदमेंकरीबपांचहजारपरिषदीयविद्यालयसंचालितहोरहेहैं।जनपदवब्लाकमुख्यालयसेविद्यालयोंकीदूरी30-40किलोमीटरतकहै।शासनस्तरसेजिलावब्लाकनिगरानीसमितियांगठितकीगईहैं।ताकिपरिषदीयस्कूलोंकानिरीक्षणकरवहांकीशैक्षिकगुणवत्ताकेसाथव्यवस्थाओंमेंसुधारकियाजासके।जनपदस्तरपरबेसिकशिक्षाअधिकारीकेपासतोचारपहियावाहनउपलब्धहै,परजिलासमन्वयकोंऔरखंडशिक्षाअधिकारियोंकेपासकोईवाहननहींहैं।ऐसेमें30-40किलोमीटरदूरकेविद्यालयोंमेंपहुंचनाआसाननहींहै।खंडशिक्षाअधिकारियोंऔरजिलासमन्वयकोंपरनिरीक्षणकोलेकरदबावपड़ताहैतोवहकागजीऔपचारिकतापूरीकरतेहैं।ऐसेमेंपरिषदस्कूलोंकीशैक्षिकगुणवत्ताकिसीसेछिपीनहींहैं।अभीचारदिनपहलेडीएमकेगोदलिएगांवकतरावलमेंबानगीभीदेखनेकोमिली।डीएमकीक्लासमेंपांचवींऔरआठवींकेबच्चेगिनतीवपहाड़ातकनहींसुनासके।इसकेअलावाशासनस्तरसेकायाकल्पयोजनाकेतहतविद्यालयों,कक्षोंकानिर्माण,रंग-रोगनआदिकेकामभीकराएजारहेहैं।जिम्मेदारअधिकारियोंकेनपहुंचनेकेकारणप्रधानाध्यापककागजीकार्यकराकरसरकारीरुपयेकाबंदरबाटकरलेतेहैं।इनव्यवस्थाओंकोसुधारनेकेलिएशासननेमंडलकेसभीखंडशिक्षाअधिकारियोंऔरजिलासमन्वयकोंकेसाथवित्तएवंलेखाधिकारीकोचारपहियावाहनरखनेकीअनुमतिदेदीहै।समग्रशिक्षाकीराज्यपरियोजनानिदेशकअनामिकासिंहनेबेसिकशिक्षाअधिकारियोंकोइसबाबतपत्रजारीकियाहै।उन्होंनेकहाहैकिखंडशिक्षाअधिकारीऔरजिलासमन्वयकहरमाह30-30हजाररुपयेकीस्वीकृतिदीजातीहै।इसमेंवहईंधन,चालक,मेंटीनेंसवअन्यखर्चभीशामिलकरेंगे।इसकाभुगतानएफएमपीमैनुअलमेंनिर्धारितनियमोंकेअनुसारडीपीओमैनेजमेंटकेहायरिंगआफह्वीकलवपीओएलमदसेकरेंगे।वाहनसेवाकेलिएजेमसंबंधीशासनादेशोंकाभीपालनकरनाहोगा।

-खंडशिक्षाअधिकारियोंवजिलासमन्वयकोंकोवाहनकेलिएशासनसेस्वीकृतिमिलीहै।यहबेहदखुशीकीबातहै।अबपरिषदीयविद्यालयोंकीनियमितनिगरानीहोनेसेकाफीसुधारआएगा।

-रामपालसिंह,जिलाबेसिकशिक्षाअधिकारी,बांदा