पर्यावरण संरक्षण के लिए करें पौधारोपण

सिद्धार्थनगर:निजीउपयोगकेलिएबड़े-बड़ेवन्यक्षेत्रोंकोउजाड़बनादियागया।हमेंयहगड़बड़ीसुधारनीहै।इसकेलिएअधिकाधिकपौधेलगानेहैंऔरवृक्षोंकोबचानेकासंकल्पलेनाहोगा।

उक्तबातेंसहायकसंभागीयपरिसरमेंबुधवारकोविभिन्नप्रजातिकेपौधारोपणकेबादएआरटीओआशुतोषकुमारशुक्लनेकही।उन्होंनेकहाविश्वपर्यावरणसेजूझरहाहै।तूफान,भूकंपजैसेकारणसिर्फऔरसिर्फइसलिएहैं,क्योंकिहमनेप्रकृतिकेनियमोंकोतोड़ाहै।पर्यावरणकोबचानेकेलिएज्यादासेज्यादापौधालगानाचाहिए।सभीकोमिलकरइसअभियानकोसफलबनानाहोगा।पौधारोपणकेसाथहीसुरक्षाभीउतनीजरूरीहै।इसीलिएपरिसरकोकंटीलेतारसेघेरागयाहै।समयसेपानीवनिगरानीविशेषध्यानदियाजाए।एआरटीओनेकहाकिइससेपूर्वभीपौधेलगाएजाचुकेहैं।आजविभिन्नप्रजातिके350पौधारोपणकियागया।अजयसिंहनेकहाकिसभीकर्मचारियोंनेसंकल्पलियाहैकिपौधोंकीरखरखावपरविशेषध्यानरहेगा।हरव्यक्तिकोकमसेकमएक-एकपौधालगाकरबेहतरपर्यावरणमेंसहयोगकरनाचाहिए।सुरक्षाकेलिएट्रीगार्डकीव्यवस्थापहलेकीजाचुकीहै।परिसरमेंआम,गुलमोहर,बरगद,पीपलवअन्यकेछहसौपौधेलगाएजाचुकेहैं।प्रवेशकुमारसरोज,सुशीलकुमार,सुरेशचंद्रश्रीवास्तव,हेमंतकुमार,अरविदकुमारवर्मा,मिन्हाजुलहोदानेभीपौधरोपणकरपौधोंकीदेखभालकीजिम्मेदारीली।

अबखबरोंकेसाथपायेंजॉबअलर्ट,जोक्स,शायरी,रेडियोऔरअन्यसर्विस,डाउनलोडकरेंजागरणएप