पुलिस स्मृति दिवस पर शहीदों को नमन किया

जागरणसंवाददाता,नूंह:बृहस्पतिवारकोपुलिसलाइनप्रांगणमेंपुलिसस्मृतिऔरझंडादिवसमनायागया।इसअवसरपरदेशकेलिएशहीदहुएपुलिसऔरअर्धसैनिकबलकेजवानोंकोजिलापुलिसनूंहकीतरफसेश्रद्धासुमनअर्पितकरश्रद्धांजलिदीगई।अधिकारियोंऔरकर्मचारियोंद्वाराएकदूसरेकीशर्टपरपुलिसध्वजलगाकरपुलिसझंडादिवसमनायागया।

पुलिसअधीक्षकनरेंद्रबिजारनियांनेदेशकेलिएशहीदहुएपुलिसऔरअ‌र्द्धसैनिकबलकेजवानोंकोपुष्पअर्पितकरनमनकिया।पुलिसअधीक्षकनेकहाकीदेशकीरक्षाकरअपनेप्राणन्यौछावरकरनेवालेशहीदहमारेदेशकीअमूल्यधरोहरहैं।शहीदोंसेप्रेरणालेकरअपनेजीवनमेप्रणकरनाचाहिएकिहमअपनेसामनेआनेवालीकिसीभीचुनौतीकादृढ़तासेसामनाकरेंगे।चाहेइसकेलिएप्राणोंकीभीआहुतिक्योंनदेनीपड़े।

उन्होंनेकहाकिदेशकीसीमाकीरक्षामेंलगेसैन्यबलोंकेबलिदानकीकईकहानियांसुनीहोंगीलेकिनहमारेपुलिसकर्मियोंकेशौर्यऔरबलिदानकाइतिहासकिसीसेकमनहींहै।कुछऐसाहीसाल1959मेंहुआथा।जबपुलिसकर्मीपीठदिखानेकीबजाएचीनीसैनिकोंकीगोलियांसीनेपरखाकरशहीदहुएथे।उसकीयादमेंहरसालपुलिसस्मृतिदिवसमनायाजाताहै।येबात21अक्टूबरसाल1959कीहैजब10पुलिसकर्मियोंनेअपनाबलिदानदियाथा।तबतिब्बतकेसाथभारतकी2,500मीलकीसीमाकीनिगरानीकीजिम्मेदारीभारतकेपुलिसकर्मियोंकीथी।उसहमलेमेंदेश10वीरशहीदहोगएजबकिसातअन्यबुरीतरहघायलहोगएथे।यहीनहीं,इनसातोंघायलपुलिसकर्मियोंकोचीनीसैनिकबंदीबनाकरलेगएजबकिबाकीअन्यपुलिसकर्मीवहांसेनिकलनेमेंकामयाबरहे।13नवंबर,1959कोशहीदहुएदसपुलिसकर्मियोंकाशवचीनीसैनिकोंनेलौटादिया।उनपुलिसकर्मियोंकाअंतिमसंस्कारहाटस्प्रिंग्समेंपूरेपुलिससम्मानकेसाथहुआ।

ऐसेहुईस्मृतिदिवसमनानेकीशुरुआत:

जनवरी1960मेंराज्योंऔरकेंद्रशासितप्रदेशोंकेपुलिसमहानिरीक्षकोंकावार्षिकसम्मेलनहुआथा।इससम्मेलनमेंलद्दाखमेंशहीदहुएउनवीरपुलिसकर्मियोंऔरसालकेदौरानड्यूटीपरजानगंवानेवालेअन्यपुलिसकर्मियोंकोसम्मानितकरनेकाफैसलालियागया।पुलिसअधीक्षकनेबतायाकिदेशकेलिएशहीदहुएपरिवारोंकेकल्याणकेबारेमेंभीपूराध्यानदेनाचाहिएताकिउन्हेंसमाजमेंपूरामानसम्मानमिले।उप-पुलिसअधीक्षकमुख्यालयसुधीरतनेजासहितसभीथानाऔरचौकीप्रभारियोंकेसाथहीअन्यपुलिसकर्मचारियोंनेपुष्पचढ़ाकरशहीदोंकोश्रद्धासुमनअर्पितकिए।