राजेश की गिरफ्तारी से खुलेगा 1.42 की धोखाधड़ी का राज

ग्रामीणविकासविशेषप्रमंडलसे28अक्टूबरकोकोषागारकार्यालयकेमाध्यमसेफर्जीकंपनीजीकेइंटरप्राइजेजकोहुए1.42करोड़केभुगतानकेमामलेमेंदोलोगोंकीगिरफ्तारीकेबादभीपुलिसकिसीठोसनतीजेपरनहींपहुंचसकीहै।कंपनीकामालिकराजेशसिंहअभीभीपुलिसकीपकड़सेदूरहैं।उसकीतलाशमेंदिल्लीमेंपांचदिनबितानेकेबादनगरथानाकीएकटीमखालीहाथलौटआईहै।टीमराजेशकीजगहबिहारकेनवादामेंरहनेवालेउसकेएकऔरभाईसमेततीनलोगोंकोजरूरलाईहै।राजेशकेएकभाईरंजनसिंहकोनगरथानाकीपुलिसएकसप्ताहसेरखकरपूछताछकररहीहै।पुलिसइनसभीपरदबावबनाकरमास्टरमाइंडराजेशतकपहुंचनेकाप्रयासकररहीहै।

पांचदिनपहलेनगरथानाकीपुलिसकीतीनसदस्यीयटीमराजेशकीतलाशमेंदिल्लीगईथी।राजेशकागुड़गांवमेंतीनकपड़ोंकाकारखानाहैऔरवहदिल्लीमेंहीकिराएपररहताहै।पुलिसकीटीमनेजबउसकेघरमेंदबिशदीतोपताचलाकिवहघरछोड़कर19नवंबरकोहीचलागयाथा।पुलिसनेदिल्लीमेंपांचसंभावितजगहोंपरदबिशडाली,लेकिनउसकापतानहींचला।यहांसेनिराशपुलिसनवादाकेकाजलनगरगईऔरराजेशकेएकभाईऔरपिताकोसाथलानेकाप्रयासकिया।बीमारीकीवजहसेपिताकोछोड़करटीमभाईऔरउसकेतीनदोस्तोंकोसाथलेकरआई।दोस्तोंसेराजेशनेबातकीथी।मोबाइलनंबरकेआधारपरउन्हेंलायागयाहै।हालांकिपुलिसकाकहनाहैकिजबतकराजेशकीगिरफ्तारीनहींहोतीहै,तबयहपताकरनाआसाननहींहोगाकिसाराखेलकैसेहुआथाऔरइसमेंकौनलोगशामिलहैं।

दोकीगिरफ्तारीकेबादभीहाथखाली

नगरथानाकीपुलिसनेधोखाधड़ीकीप्राथमिकीदर्जकरानेवालेग्रामीणविकासविशेषप्रमंडलकेलेखापालपंकजवर्माऔरकंप्यूटरआपरेटरपवनगुप्ताकोदसदिनथानामेंरखनेकेबादसाक्ष्यकेआधारपर18नवंबरकोगुपचुपतरीकेसेजेलभेजदियाथा।इतनाबड़ामामलाहोनेकेबादभीपुलिसनेदोनोंकोमीडियाकेसामनेलानेकीआवश्यकतातकमहसूसनहींकी।जबकि,इसीथानाकीपुलिसएकचोरकोगिरफ्तारकरनेकेबादबाकायदामीडियाकोबुलाकरतस्वीरखिचवानेमेंपीछेनहींरहतीहै।पुलिसनेधोखाधड़ीमेंप्रयुक्तडोंगलऔरएकलैपटापकोसाक्ष्यबताकरदोनोंकोजेलभेजाथा।

वित्तविभागकीरिपोर्टकोकियाखारिज

धोखाधड़ीकेबादकोषागारपदाधिकारीविकासकुमारनेपुलिसकोकुछप्रमाणदिएथे,जिसमेंबतायाथाकिसाराखेलएकमोबाइलसेहुआहैऔरउसकाओटीपीआयाथा।पुलिसनेमोबाइलनंबरकापतालगानेकेबादउसकेमालिकरामगढ़जिलेमेंकार्यरतविभागकेपूर्वलेखापालइब्राहिमअंसारीकोउठाया।उनकेमोबाइलकोचारबारतकनीशियनकेमाध्यमसेखंगाला,लेकिनओटीपीकेबारेमेंपतानहींचला।पुलिसनेउसेछोड़भीदिया।