सकारात्मक सोच से ही व्यक्ति महान बनता

जागरणसंवाददाता,साहिबगंज:गायत्रीमहामंत्रहमारेअंदरसकारात्मकसोचविकसितकरताहै।इसीसकारात्मकसोचसेहीव्यक्तिमहानबनताहै।अखिलविश्वगायत्रीपरिवारसाहिबगंजकीओरसेशनिवारकोगायत्रीशक्तिपीठमेंआयोजित24लाखगायत्रीमहामंत्रलेखनपुस्तिकास्थापनासमारोहकोसंबोधितकरतेहुएउपायुक्तरामनिवासयादवनेयहबातकही।उन्होंनेगायत्रीपरिवारद्वाराचलाएजारहेविभिन्नप्रकारकेसामाजिकगतिविधियोंकीसराहनाकी।इससेपहलेवनप्रमंडलपदाधिकारीविकासपालीवालनेभीगायत्रीपरिवारकेसामाजिककार्योकीप्रशंसाकी।दोनोंपदाधिकारियोंनेमिलकरवैदिकरीतिसेमंत्रलेखनस्थापनाकी।गायत्रीपरिवारकेउपजोनसमन्वयकवीरेंद्रकुमारचौधरीनेबतायाकि31अक्टूबरकेसुबह6बजेतक24घंटेकाअखंडजपगायत्रीशक्तिपीठमेंहुआ।इसमेंकरीबसवातीनलाखगायत्रीमहामंत्रकाअनुष्ठानहुआ।कार्यक्रममेंराजमहलसेजानकीदेवी,किरणदेवी,सकरीगलीसेरामप्रतापचौधरी,बाबूलालचौधरी,अमितकुमार,मनोजठाकुर,बरहड़वासेसंजयभगत,जगदीशभगत,गंगाशर्मा,बरहेटसेकंचनदेवी,रूबीदेवी,सीमादेवी,मंडरोसेसुनीलभगतमिर्जाचौकीसेसुप्रियावर्णवाल,सुनीतावर्णवाल,इनादेवी,बाकरपुरसेरामकृष्णपरमहंस,शहरसेज्योतिचौरसिया,रीतागुप्ता,संगीताराय,सविताकुमारी,सरितापोद्दार,मनोरमादेवी,डॉराधामोहनमंडल,अभयकुमार,हरिहरमंडल,देवमुनिपोद्दार,सच्चिदानंदचौधरी,विश्वजीतकेसरी,राजकिशोरराय,सत्यदेवकुमारसिंह,डॉदीपककुमार,ओंकारनाथमिश्रा,संजीवचौधरी,शिवशंकरनिरालाआदिनेसहयोगकिया।