सरकारी कालेज न होने से हिसार-सिरसा का रूख कर रहे विद्यार्थी

जागरणसंवाददाता,फतेहाबाद:

जिलाबने21सालपूरेहोनेजारहेहैं,लेकिनजिलाफिरभीशिक्षाकेक्षेत्रमेंपिछड़ाहुआहै।कारणयेहीहैकियहांपरबेहतरशिक्षणसंस्थानहीनहींहै।सिर्फऔपचारिकताएंपूरीहोरहीहैं।जिलामुख्यालयभीइससेदूरनहींहै।मुख्यालयमेंहीलड़कोंकेपढ़नेकेलिएकालेजनहींहै।जिलाबननेकेबादकईसरकारेंआईऔरगई।राजनीतिहुईलेकिनफिरभीकालेजनहींबनपायाहै।इसकानुकसानभविष्यकोहीउठानापड़रहाहै।सरकारीकालेजनहोनेसेविद्यार्थियोंकोपढ़नेकेलिएहिसारयासिरसाकारूखकरनापड़रहाहै।

बारहवींमेंपासहोनेवालेकरीब20से25फीसदविद्यार्थीग्रेजुएशनकेलिएहिसारयाफिरसिरसाकेसरकारीकालेजोंमेंदाखिलालेरहेहैं।जिलाकेफतेहाबादमेंराजकीयमहिलामहाविद्यालयहैइसकेअलावानिजीकालेजहै।रतियामेंलड़कियोंकेलिएअलगकालेजकेअलावालड़कियोंवलड़कोंकेलिएकालेजहै।टोहाना,भूनावभट्टूमेंलड़कोंवलड़कियोंकेलिएकालेजहै।लेकिनजिलामुख्यालयपरकालेजनहींहै।

24सौविद्यार्थियोंकेलिएकालेजमेंसीटेंहीनहीं:

जिलामेंसरकारीकालेजनहोनेकेकारणविद्यार्थियोंकोयातोबाहरजानापड़रहाहैयाफिरप्राइवेजकालेजमेंदाखिलालेनापड़रहाहै।जिलामेंइसबारबारहवींकक्षामें5451विद्यार्थीपासहुएलेकिनयहांपरसीटें3060हैं।

येहैबारहवींमेंपासविद्यार्थियोंकाआंकड़ा:

परीक्षामेंबैठेपासहुए

सरकारीकालेजमेंसीटें-3060

विधानसभामेंमैंनेहरबारक्षेत्रमेंबनानेकीमांगउठाईहैलेकिनसरकारइसतरफध्याननहींदेरहीहै।क्षेत्रमेंकालेजकीमांगबहुतपुरानीहैऔरजरूरीभीहै।लेकिनसरकारकीनीयतठीकनहीहै।मैंआगेभीकालेजकीमांगउठातारहूंगा।

-बलवान¨सहदौलतपुरिया

विधायक,फतेहाबाद