सशक्तीकरण जरूरी, पर राजनीति का मोहरा न बनें महिलाएं : डा. चौहान

जागरणसंवाददाता,करनाल:देशऔरसमाजकोमजबूतकरनेकेलिएमहिलाओंकासशक्तिकरणजरूरीहै।इसकेलिएमहिलाओंकोअपनेअधिकारोंकेप्रतिजागरूकहोनाहोगा।महिलाअधिकारोंएवंउनकेसंरक्षणकेलिएकानूनमेंकईप्रावधानकिएगएहैं।लेकिनअधिकारोंकेसंरक्षणसेपहलेमहिलाओंकोअपनेअधिकारोंकोभली-भांतिसमझनाहोगा।आजकलमहिलाअधिकारोंकेनामपरमहिलाओंकोराजनीतिकामोहराबनायाजाताहैजिसकामहिलासशक्तिकरणसेकोईलेनादेनानहींहोता।इसलिएउन्हेंइसषड्यंत्रसेसावधानरहनाहोगा।यहबातहरियाणाग्रंथअकादमीकेउपाध्यक्षडा.वीरेंद्रसिंहचौहाननेकही।वहराष्ट्रीयमहिलादिवसकेउपलक्ष्यमेंमहिलाअधिकारोंएवंउनकेसंरक्षणकेक़ानूनीप्रावधानोंपररेडियोग्रामोदयऔर•ालिाविधिकसेवाप्राधिकरणकेसंयुक्ततत्वावधानमेंआयोजितआनलाइनसंगोष्ठीमेंअपनेविचाररखरहेथे।डा.वीरेंद्रसिंहचौहाननेकहाकिरेडियोग्रामोदयजिलाविधिकसेवाप्राधिकरणकेसाथमिलकर•ालिेमेंकानूनीजागरूकताकेलिएनियमितसाप्ताहिककार्यक्रमशुरूकरेगा।उन्होंनेकहाकिजिलावसत्रजिलावसत्रन्यायाधीशजिलाविधिकसेवाप्राधिकरणकेसाथमिलकरजिलेमेंकानूनीजागरूकताकेलिएएकऔरनियमितसाप्ताहिककार्यक्रमशुरूकरेगा।उन्होंनेकहाकिजिलावसत्रन्यायाधीशकरनालकेमार्गदर्शनमेंआमजनकोइसकार्यक्रमकेजरियेसजगबनायाजाएगा।डा.चौहाननेनागरिकोंकाआह्वानकियाकिवेजिलाविधिकसेवाप्राधिकरणद्वाराजनहितमेंउपलब्धकराईजारहीविभिन्नमेंनि:शुल्कसेवाओंकालाभलें।इसअवसरपरचौहाननेभारतकोकिलासरोजिनीनायडूऔरआर्यसमाजकेसंस्थापकमहर्षिदयानंदकोभीश्रद्धासुमनअर्पितकिए।