सुल्तानपुर में संवेदनहीन हुआ स्वास्थ्य महकमा, बेटे के शव को कंधे पर लाद पिता पहुंचा बस स्टेशन

सुल्तानपुर,जेएनएन।उत्तरप्रदेशकेसुल्तानपुरमेंस्वास्थ्यविभागकीसंवेदनहीनतादिखाईदीहै।यहांकेजिलाअस्पतालमेंमासूमकीइलाजकेदौरानमौतकेबादमृतककेपितानेशवकोघरलेजानेकेलिएवाहनकीमांगकी।लेकिनस्वास्थ्यविभागकेजिम्मेदारोंनेकोईमददनहींदी।मजबूरपितापहलेतोकुछदेरचिकित्सकोंवएम्बुलेंसचालकोंसेमिन्नतेकी,जबउसकीकिसीनेनहींसुनीतोवहबेटेकेशवकोकंधेपरलादकरबसस्टेशनपहुंचा।वहांसेबसमेंसवारहोकरबेटेकेशवकोकुंधेपरलादे-लादेकादीपुरनिकलपड़ा।यहांपरमौजूदपुलिसकर्मियोंनेउसेई-रिक्शासेघरभेजा।

कंधेपरबेटेकेशवकोलादेपहुंचाबसस्टेशन

दरअसल,पड़ोसीजनपदजौनपुरकेसरपतहाथानाक्षेत्रकेउस्रौलीगांवनिवासीरामयशविंदपुत्रतीनवर्षीयपुत्रदिव्यांशकोशुक्रवारकीदेररातविषैलेजंतुनेकाटलियाथा।पिताउसेलेकरसूरापुरमेंएकचिकित्सककोदिखाया,जहांहालतगंभीरदेखउसेकादीपुरसामुदायिकस्वास्थ्यकेंद्रभेजदिया।सीएचसीपरचिकित्सकोंनेहालतनाजुकदेखएम्बुलेंससेसुलतानपुरजिलाचिकित्सालयभेजदियागया।देररातवहजिलाअस्पतालपहुंचाथा,जहांशनिवारकीसुबहइलाजकेदौरानमासूमकीमौतहोगई।यहांचिकित्सकोंनेरामयशकोबच्चेकाशवसौंपदिया।आरोपहैकिमृतकाकापिताजिलाचिकित्सालयमेंशवकोलेजानेकेलिएकाफीगुहारलगातारहा,लेकिनउसकीकिसीनेनसुनी।अस्पतालपरिसरमेंखड़ीएकएम्बुलेंसनेशवकोलेजानेकेलिएउससे1800रुपयेकीमांगकी,लेकिनरुपयेनहोनेपरवहअपनेमृतपुत्रकेशवकोकंधेपरलादकरसुलतानपुरबसस्टेशनचलपड़ा।

पुलिसनेबैठादियाबसमें

यहांमृतबच्चेकेरहतेकोईअपनेसाधनपरबैठानेकोतैयारनहींहुआ।बसस्टेशनपरड्यूटीमेंलगीपुलिसनेउक्तलाचारकोपरिवहननिगमकीबसमेंबैठाया,जोकादीपुरबसअड्डेपरउतरा।बसस्टेशनपरमृतककीमांबिलखरहीथीइसेदेखचौराहेपरतैनातसिपाहीअजयकुमारवहोमगार्डगुरदीनसिंहनेई-रिक्शाकरउन्हेंघरछुड़वाया।

क्याकहतेहैंजिम्मेदार?

इससंबंधमेंमुख्यचिकित्साधिकारीडॉसीबीएनत्रिपाठीनेकहाकिरामयशद्वाराजिलाअस्पतालमेंइंट्रीहीनहींकराईगई।वहपोस्टमॉर्टमकेलिएभीतैयारनहींथा।इंट्रीनहोनेकेकारणउसेवाहननहींमिलसका।