स्वामी जी के रास्ते किसानों के संघर्ष को तेज करने का लेना होगा संकल्प

सीतामढ़ी।संयुक्तकिसानसंघर्षमोर्चाकेतत्वावधानमेंखादीभंडारप्रांगणमेंकिसानआंदोलनकेजनकस्वामीसहजानन्दसरस्वतीकी131वीजयंतीपरउनकेचित्रपरमाल्यार्पणतथापुष्पाजलिअर्पितकरनेकेसाथ'खेतीकासंकटतथाकिसानआंदोलन'विषयपरएकसंगोष्ठीआयोजितकीगई।इसमेंमोर्चाकेजिलाअध्यक्षकाचुनावकियागया।अध्यक्षतामोर्चाकेवरिष्ठउपाध्यक्षजीवनाथशाफीनेकी।विषयप्रवेशमोर्चाकेउपाध्यक्षजलंधरयदुबंशीनेकरायातथास्वतंत्रताआंदोलनतथाकिसानआंदोलनमेंस्वामीजीकेयोगदानकीचर्चाकीतथाउनकेबताएरास्तेसंघर्षतेजकरनेकीजरूरतबताई।मोर्चाकेसंरक्षकडॉ.आनन्दकिशोरनेकहाकिस्वामीजीनेपहलीबारकिसानोंकेलिए'भगवान'शब्दकाप्रयोगकियाथा।आजआजादीके72वर्षबादभीकिसानोंकीउपेक्षातथाआर्थिकगैरबराबरीबढ़तीजारहीहै।आजअपनाहकपानेकेलिएस्वामीजीकेरास्तेकिसानोंकेसंघर्षकोतेजकरनेकासंकल्पलेनाहोगा।स्वागतभाषणतथामंचसंचालनमहासचिवआफताबअंजुमनेकिया।संगोष्ठीकोप्रमोदकुमारमिश्र,दिनेशचन्द्रद्विवेदी,प्रो.दिगम्बरठाकुर,हरिनारायणसिह,चन्द्रदेवमंडल,लालबाबूमिश्र,शिवशंकरमंडल,संजीवकुमारसिंह,नन्दकिशोरमंडल,विजयकुमारपाण्डेय,ताराकांतझाआदिनेसंबोधितकिया।सर्वसम्मतिसेजलंधरयदुबंशीकोमोर्चाकाजिलाध्यक्ष,ब्रजमोहनमंडलकोउपाध्यक्ष,संजीवकुमारसिह,अशोककुमारकोमहासचिवतथारामनरेशयादव,जयचन्द्रसिहतथाजगदीशपासवानकोकार्यसमितिकेलिएचुनागया।

किसानआंदोलनकेप्रणेताथेस्वामीसहजानंद

सीतामढ़ी:फिजिकलगलीस्थितजानकीनाथसदनमेंस्वामीसहजानंदसरस्वतीविचारमंचकेअध्यक्षशैलेंद्रकुमारसिंहकीअध्यक्षतामेंस्वामीसहजानंदसरस्वतीजयंतीमनाईगई।समारोहकाउदघाटनकरतेहुएपूर्वमंत्रीनवलकिशोरशाहीनेकहाकिस्वामीसहजानंदभारतमेंकिसानआंदोलनकेप्रणेताथे।जिलासंयोजकश्रीनिवासमिश्रनेस्वामीजीकीजयंतीआगामी4मार्चकोब्रह्मर्षिविकाससंस्थानदरभंगाकीओरसेअहिल्यास्थानमेंआयोजितसामूहिकउपनयनसम्मेलनकोसफलबनानेकीअपीलकी।मौकेपरप्रवीणकुमारशाही,अशोकशाही,डॉ.शशिरंजनकुमार,दिनकरनारायणसिंह,विमलेंदुकुमारसिंह,उपेंद्रआर्य,अंबिकाप्रसादसिंह,विनयकुमार,डॉ.मृत्यंजयझाआदिथे।