तमिलनाडु विधानसभा ने नीट विरोधी विधेयक फिर से पारित किया, भाजपा ने बर्हिगमन किया

चेन्नई,आठफरवरी(भाषा)तमिलनाडुविधानसभानेराष्ट्रीयपात्रतासहप्रवेशपरीक्षा(नीट)विरोधीविधेयकमंगलवारकोफिरसेपारितकरदिया,जिसेराज्यकेराज्यपालआरएनरविनेकुछदिनपहलेलौटादियाथा।प्रस्तावकोपारितकरतेसमयमेजथपथपाईगईंऔरअध्यक्षएमअप्पावुनेघोषणाकीकिविधेयककोसर्वसम्मतिसेपारितकियागयाहै।मुख्यमंत्रीएमकेस्टालिननेविधेयकपारितकरनेकाप्रस्तावपेशकिया।इससेपहलेविधानसभामेंभारतीयजनतापार्टी(भाजपा)विधायकदलकेनेतानैनारनागेंद्रनकेनेतृत्वमेंभाजपानेइसकदमकाविरोधकरतेहुएसदनसेबर्हिगमनकरदिया।विधेयकपरचर्चाकेदौरानसदनमेंउससमयहंगामाहुआजबपूर्वसरकारमेंस्वास्थ्यमंत्रीरहेअखिलभारतीयद्रविड़मुनेत्रकषगम(अन्नाद्रमुक)केनेतासीविजयभास्करनेकहाकिनीटकीशुरुआत2010मेंकांग्रेसनीतसंयुक्तप्रगतिशीलगठबंधन(संप्रग)सरकारमेंहुईथी,तोकांग्रेसविधायकोंनेइसकाविरोधकिया।विपक्षकेनेताकेपलानीस्वामीनेकहाकिउनकेपार्टीसहयोगीकेवलसच्चाईबतारहेहैं।मुख्यमंत्रीनेपिछलेसप्ताहविधेयककीवापसीपरराज्यपालरविसेप्राप्तसंवादकाजिक्रकरतेहुएकहाकिउनकेद्वाराजोकारणबताएगए,वेसहीनहींथे।स्टालिननेकहाकिरविनेनीटपरन्यायमूर्तिएकेराजनपैनलकीसिफारिशोंकाहवालादेतेहुएकहाकिवे‘‘अनुमान’’परआधारितथीं,लेकिनवेआंकड़ोंऔरएकलाखसेअधिकलोगोंकीरायपरआधारितथीं।उन्होंनेयोग्यतापरीक्षाकेखिलाफअपनीसरकारकेरुखकोदोहरातेहुएकहा,‘‘नीटएकशिक्षाप्रणालीनहींहै,बल्किचिकित्साउम्मीदवारोंकोप्रशिक्षितकरनेकीएकप्रणालीहै।’’