UP Board का बड़ा फैसला: अब साल में दो बार होगी यूपी बोर्ड हाईस्कूल व इंटर की परीक्षा, पूछे जाएंगे 30 बहुविकल्पीय प्रश्न

लखनऊ[राज्यब्यूरो]।यूपीबोर्डकीहाईस्कूलवइंटरमीडिएटकीपरीक्षाएंअबसालमेंदोबारहोंगी।वर्ष2023सेबोर्डपरीक्षार्थियोंकोयहमौकादियाजाएगा।सालमेंदोबारबोर्डपरीक्षाहोनेसेविद्यार्थियोंकोऐसेविषयोंमेंनंबरबढ़ानेकामौकामिलेगा,जिनमेंउन्हेंकमअंकमिलेहैं।

माध्यमिकशिक्षाविभागकीअपरमुख्यसचिवआराधनाशुक्लानेबतायाकिबोर्डकेसभीविद्यार्थियोंकोएकसमानरूपसेसालमेंदोपरीक्षादेनेकामौकादियाजाएगा।विद्यार्थीबिनाकिसीतनावकेपरीक्षादेसकेंगे,जबकिकोचिंगकेप्रतिउनकारुझानभीकमहोगा।एकबारपरीक्षाअपनेनिर्धारितसमयपरहोगीऔरदूसरीबारविद्यार्थियोंकेपरीक्षाफलमेंसुधारकेलिएहोगी।नईराष्ट्रीयशिक्षानीतिकेतहतयहबदलावकिएजाएंगे।राजकीयमाध्यमिकस्कूलोंमेंकक्षानौसेकक्षा12तककेविद्यार्थियोंकोअंग्रेजीमाध्यमसेपढ़ानेकीभीव्यवस्थाकीजाएगी।माध्यमिकस्कूलोंमेंएकसेक्शनअंग्रेजीमाध्यमकाखोलाजाएगा।

अंग्रेजीमाध्यमसेपढ़ाईकेलिएविशेषसरकारीप्राइमरीस्कूलचलाएजारहेहैं।ऐसेमेंयहविद्यार्थीजबआगेमाध्यमिकस्कूलोंमेंपहुंचेंगेतोवहांभीइन्हेंअंग्रेजीमाध्यमसेपढ़ाईकरनेकामौकामिलसकेगा।इसकेसाथहीविदेशीऔरशास्त्रीयभाषाओंकोभीऑनलाइनपढ़ानेकीव्यवस्थाकीजाएगी।शैक्षिकसत्र2021-22मेंएकविस्तृतरिपोर्टतैयारकरइसेलागूकरायाजाएगा।

बदलेगारिपोर्टकार्ड,एआइकीलेंगेमदद:यूपीबोर्डकेस्कूलोंमेंपढ़रहेविद्यार्थियोंकेव्यक्तित्वकासंपूर्णमूल्यांकनकररिपोर्टकार्डतैयारकियाजाएगा।कक्षानौकेविद्यार्थियोंकोनएसत्र2021-22सेहीनयारिपोर्टकार्डदियाजाएगा।इसरिपोर्टकार्डमेंविद्यार्थियोंकेसंज्ञानात्मक,भावात्मकऔरसाइकोमोटरडोमेनकेआधारपरउनकामूल्यांकनकियाजाएगा।यानीविद्यार्थियोंकेकार्यकरनेकीगतितथासमझनेवविश्लेषणकीक्षमतासहितअन्यबिंदुओंकाआकलनकियाजाएगा।शैक्षिकसत्र2021-22सेहीआर्टिफिशियलइंटेलीजेंस(एआइ)आधारितसाफ्टवेयरतैयारकियाजाएगा।वहींइंटरेक्टिवप्रश्नावलीकेआधारपरविद्यार्थियोंकाआकलनकियाजाएगा।

बदलेगापरीक्षाकापैटर्न,पूछेजाएंगे30बहुविकल्पीयप्रश्न:यूपीबोर्डपरीक्षाकापैटर्नभीबदलेगा।हाईस्कूलकीपरीक्षाकावर्ष2023औरइंटरमीडिएटकीपरीक्षाकावर्ष2025सेपैटर्नबदलाजाएगा।कक्षानौकेविद्यार्थियोंकेलिएनयापैटर्न2021-22सेहीलागूहोगा।प्रश्नपत्रदोभागमेंहोगा।पहलापेपरएकघंटेकाहोगा।इसप्रश्नपत्रमें30प्रश्नबहुविकल्पीयहोंगेऔरइनकीपरीक्षाओएमआरशीटपरकराईजाएगी।दोघंटेकादूसराप्रश्नपत्रवर्णनात्मकहोगा।यह70अंककाहोगा।इनप्रश्नपत्रोंमेंउच्चतरचिंतनकौशलकेप्रश्नभीरखेजाएंगे।