UPSC Extra Attempt: आज होगी अगली सुनवाई, सिविल सेवा परीक्षा के लिए अतिरिक्त अवसर मामले में जानें अब तक के अपडेट्स

UPSCExtraAttempt:वर्ष2020कीपरीक्षामेंलास्टअटेम्प्टवाले24उम्मीदवारोंद्वारादायरयाचिकाअगलीसुनवाईआज,28जनवरी,2021कोकीजानीहै।वर्ष2020कीपरीक्षामेंलास्टअटेम्प्टवाले24उम्मीदवारोंद्वारादायरयाचिकामेंमांगगईहैकिउन्हें2021मेंहोनेवालीसिविलसेवापरीक्षामेंभीबैठनेकाअतिरिक्तमौकादियाजाएक्योंकिवर्ष2020मेंकोविड-19केकारणमद्देनजरपरीक्षानहींदेपाएथेऔरवर्ष2021कीसिविलसेवापरीक्षाकेलिएनिर्धारितअधिकतमआयुसीमाकोपारकरजाएंगे।आयुसीमासेसंबंधितनियमोंकेअनुसार,वे2021कीसिविलसेवापरीक्षामेंभागनहींलेसकेंगे।बतादेंकिपिछलेवर्षकोविड-19महामारीकेकारणअक्टूबर2020मेंआयोजितकीगईयूपीएससीकीसिविलसर्विसेजपरीक्षामेंशामिलहोनेसेवंचितरहगएउम्मीदवारोंकोअतिरिक्तमौकादेनेकेसंबंधमेंसुप्रीमकोर्टमेंएकयाचिकादायरकीगईथी।

वहीं,25जनवरीकोकेंद्रसरकारनेसुप्रीमकोर्टकोबतायाकिकोविड-19केकारणवर्ष2020मेंसंघलोकसेवाआयोगकीसिविलसेवापरीक्षामेंअपनेलास्टअटेम्प्टसेवंचितरहगएउम्मीदवारोंकोअतिरिक्तअवसरदिएजानेका'नकारात्मकअसर'पड़ेगा।सुप्रीमकोर्टमेंदायरहलफनामेमेंकेंद्रसरकारनेकहाहैकिकुछउम्मीदवारोंकोएक्स्ट्राचांसयाआयुमेंछूटदेनापरीक्षामेंहिस्सालेचुकेउम्मीदवारोंसेभेदभावकरनेजैसाहोगा।केंद्रसरकारद्वारादायरहलफनामामेंकहागयाथाकिमौजूदायाचिकाकर्ताओंकोसमायोजितकरनेकानिगेटिवप्रभावपड़ेगाऔरयहपूरीकार्यप्रणालीकेलिएनुकसानदायकसाबितहोगा।क्योंकिकिसीभीलोकपरीक्षाप्रणालीमेंहरउम्मीदवारकोसमानऔरनिष्पक्षअवसरप्रदानकरनेकीजरूरतहोतीहै।

बतादेंकिइससेपहले22जनवरीकोसुप्रीमकोर्टमेंइसमामलेकीसुनवाईकीगईथी।न्यायाधीशन्यायमूर्तिए.एम.खानविल्कर,न्यायमूर्तिबी.आर.गवईऔरन्यायमूर्तिकृष्णमुरारीकीखण्डपीठनेमामलेकीसुनवाईकी।सुनवाईकेदौरानएडिशनलसॉलिसिटरजनरलएस.वी.राजूनेकोर्टकोबतायाकिउन्हें21जनवरी2021कीदेरशामफोनपरजानकारीदीगईकियूपीएससीउम्मीदवारोंकोअतिरिक्तमौकानहींदियाजाएगा।वहीं,खण्डपीठनेएएसजीकोकेंद्रऔरयूपीएससीकीओरसेइससंबंधमेंहलफनामादायरकरनेकेनिर्देशकेसाथमामलेकीअगलीसुनवाई25जनवरी2021तककेलिएटालदीथी।हालांकि,11जनवरी2021कोहुईसुनवाईकेदौरानएस.वी.राजूनेसुप्रीमकोर्टकोबतायाथाकिउम्मीदवारोंकोअतिरिक्तअवसरदिएजानेपरकेंद्रसरकारवयूपीएससीद्वाराविचारकियाजारहाहै।

बतादेंकि30सितंबर2020कोहुईसुनवाईकेदौरानसुप्रीमकोर्टनेकेंद्रसरकारवयूपीएससीकोनिर्देशदिएथेकिइनउम्मीदवारोंकोआयुसीमामेंछूटदेतेहुएएकअतिरिक्तअवसरदिएजाएं।बतादेंकिआमतौरपरयूपीएससीसिविलसेवापरीक्षाकेलिएसामान्यवर्गकेउम्मीदवारोंको32सालकीउम्रतक6अवसरमिलताहै।वहीं,ओबीसीवर्गकेउम्मीदवार35वर्षकीउम्रतक9बारपरीक्षादेसकतेहैं।जबकि,एससी/एसटीवर्गकेउम्मीदवार37वर्षकीआयुतकजितनीबारचाहें,परीक्षामेंभागलेसकतेहैं।

दूसरीतरफ,मीडियारिपोर्ट्सकेअनुसार,सुप्रीमकोर्टनेकेंद्रसरकारकोनिर्देशदियाहैकिजबतकइसमामलेमेंसुनवाईपूरीनहींहोजातीहै,तबतकइसमामलेमेंनयानोटिफिकेशनननिकालाजाए।वहीं,याचिकाकर्ताकेवकीलनेकहाहैकिहमकेंद्रसरकारकेहलफनामापरजवाबदाखिलकरनाचाहतेहैं।कोर्टद्वारायाचिकाकर्ताओंको27फरवरीतकजवाबदाखिलकरनेकीअनुमतिदीगईहै।