उत्तराखंड पुलिस को मिलीं 46 महिला उप निरीक्षक

नरेंद्रनगर,टिहरी[जेएनएन]:पुलिसप्रशिक्षणमहाविद्यालयनरेंद्रनगरमेंआयोजितदीक्षांतपरेडमें46महिलाउपनिरीक्षककसमपरेडकेबादपुलिसकीमुख्यधारामेंशामिलहोगईं।डीजीपीअनिलरतूड़ीनेपुलिसउपनिरीक्षकोंकोशपथदिलाई।इससेपूर्वउन्होंनेदीक्षांतपरेडकीसलामीली।इसमौकेपरउन्होंनेकहाकिआजसमाजमेंबढ़रहेअपराधोंकोनियंत्रितकरनापुलिसकेलिएचुनौतीहै।पुलिसकोजनतामेंविश्वासपैदाकरलगनऔरनिष्ठापूर्वकदायित्वोंकोनिभानाहैं।

महिलाउपनिरीक्षकप्रशिक्षकोंकायहतीसराबैचहै।बैचकोआठमई2017सेनौमई2018तकएकसालकाप्रशिक्षणदियागया।इससेपूर्वप्रथमवर्षमें48वद्वितीयवर्षमें29महिलाउपनिरीक्षकसमेतकुल127महिलाउपनिरीक्षकउत्तराखंडपुलिसमेंशामिलहोगईहैं।डीजीपीअनिलरतूड़ीनेकहाकिअन्यराज्योंमेंउत्तराखंडअग्रणीयराज्योंमेंशामिलहै।जहांदेशकीकुलपुलिससंख्यामेंअपनाराज्य11.22प्रतिशतहै।पुलिसप्रशिक्षणमहाविद्यालयकेप्रधानाचार्यएपीअंशुमाननेवर्षभरकाप्रशिक्षणवमहाविद्यालयकालेखाजोखापेशकिया।

उपप्रधानाचार्यसुखबीरसिंह,अपरपुलिसअधीक्षकप्रकाशचंद्रआर्य,पुलिसउपाधीक्षकविजेंद्रदत्तडोभाल,प्रतिसारनिरीक्षकसुशीलरावत,मनीषजायसवाल,संजयचौहान,चंद्रसिंहनेगी,आरबीचमोलाद्वाराप्रशिक्षुओंकोवर्षभरअपराधोंकीविवेचना,अपराधअनुसंधान,अभियोजनसंबंधीप्रावधान,विवेचनावैज्ञानिकएवंतकनीकीउपकरणोंकाप्रयोग,सीसीटीएनएस,आपदाप्रबंधन,बमडिस्पोजलएंडडिटेक्शन,सर्विलांस,साइबरक्राइम,कराटेयोगआदिविषयोंपरव्याख्यानकेसाथगहनअध्ययनकरायागया।

इसमौकेपरअपरपुलिसमहानिदेशक(प्रशासन)रामसिंहमीणा,प्रधानाचार्यपीटीसीएपीअंशुमन,वरिष्ठपुलिसअधीक्षकटिहरीविमलागुंज्याल,उपप्रधानाचार्यप्रकाशचंद्रआर्यआदिमौजूदरहे।

यहभीपढ़ें: दूनकीमहिलाआरक्षीअंजनानेकियावुशूएनआइएसमेंटॉप

यहभीपढ़ें:साढ़ेतीनफुटकदकीयहमहिलाआइएएसमिसालबनकरउभरी

यहभीपढ़ें:चायबेचकरयहयुवकबनापीसीएसअधिकारी,जानिएसंघर्षकीकहानी