विद्यालय सुरक्षा कार्यक्रम के तहत शिक्षकों को दिया गया प्रशिक्षण

संवादसूत्र,छातापुर(सुपौल):विभागीयनिर्देशकेआलोकमेंछातापुरप्रखंडकेविभिन्नविद्यालयोंकेनामितशिक्षकोंकाविद्यालयसुरक्षाकार्यक्रमकेअंतर्गतविद्यालयसुरक्षासेसंबंधितएवंकोविड-19केएहतियातहेतुएकदिवसीयगैरआवासीयप्रशिक्षणकाआयोजनप्राथमिकविद्यालयप्रखंडकालोनीएवंमध्यविद्यालयछातापुरमेंकियागया।प्रशिक्षककेरूपमेंशंकरकुमारसुमन,अलखकुमारअकेला,डा.श्यामसुंदरशर्माऔरचंदनकुमारनेविद्यालयसुरक्षाकार्यक्रमकेबारेमेंशिक्षकोंकोविस्तृतजानकारीदी।प्रशिक्षकनेकहाकिआपदाएकप्राकृतिकऔरमानवसृजितघटनाहै।जिसकेकारणसमाजकाजीवनअचानकबाधितहोजाताहैतथाजानमालकीअत्यधिकक्षतिहोतीहै।माकड्रिलकेमाध्यमसेजानकरीदेतेहुएकहाकिविद्यालयकेबच्चोंकोविद्यालयआपदाप्रबंधनयोजनाकोसरजमींपरलागूकियाजानाचाहिए।कहाकिफोकलशिक्षकोंएवंबालप्रेरकों,विद्यालयआपदाप्रबंधनसमिति,हजार्डहंटएवंइवेकुएशनमैपिगआदिकागठनअवश्यहोनाचाहिए।कहाकिआपातकालीनस्थितिकेदौरानविद्यालयपरिसरमेंअपनाएजानेवालेसुरक्षात्मकउपायोंकोऔरबेहतरबनानेकीआवश्यकताहै।शिक्षकनरेशकुमारनिरालानेकहाकिविभिन्नआपदाएंजैसेभूकंप,बाढ़,अगलगी,चक्रवातीतूफान,व्रजपात,लू,शीतलहर,सर्पदंशआदिबचावकीतैयारीविद्यालयवगृहस्तरपरजरूरकरनाचाहिए।शिक्षकनरेशकुमारमंडलवनिरंजनकुमारनेकहाकिआपदादोप्रकारकेहोतेहैंएकप्राकृतिकआपदातोदूसरामानवजनितआपदा।उन्होंनेदोनोंतरहकीआपदापरविस्तारपूर्वकजानकारीदी।मौकेपरनीलूकुमारी,प्रकाशकुमार,अर्चनाकुमारी,नीतूकुमारी,रजियासुल्ताना,रूस्तमअली,मोफैजुल्लाह,सुरेन्द्रयादव,सुरेन्द्रपासवान,राजकुमारी,अनुपमकुमारी,रंजूकुमारी,विभाकुमारी,चंद्रकलासिन्हा,कंचनकुमारी,रेणुकुमारी,दिलीपकुमारझा,रामचंद्रलालदास,सौदागरमुखिया,देवनारायणमुखिया,मोनद्दीमअकरम,बीबीरुबीनाखातुन,रीतुकुमारी,अशोकमंडल,जयनारायणराम,कृष्णकुमार,महामायाप्रसाद,पूनमदेवी,किरणकुमारीआदिउपस्थितथे।