Vikas Dubey News: न्यायिक आयोग की रिपोर्ट में पूर्व डीआइजी और शहीद सीओ भी दोषी, जानिए- किसे किस दंड की सिफारिश

कानपुर,[गौरवदीक्षित]।चौबेपुरकेहिस्ट्रीशीटरविकासदुबेगिरोहसेमुठभेड़मेंसीओसमेतआठपुलिसकर्मियोंकीशहादतपरचर्चामेंआएबिकरूकांडकोलेकरसरकारकोसौंपीगईन्यायिकआयोगकीरिपोर्टमेंचौंकानेवालीजानकारियांसामनेआईहैं।आयोगनेभीबिकरूकांडकेलिएनिलंबितडीआइजीअनंतदेवकेअलावाशहीदसीओकोभीदोषीमानाहै।आयोगनेउनकेअलावाआठअधिकारियोंकेखिलाफभीजांचकीथी।इसमेंतत्कालीनपुलिसअफसरोंऔरकर्मियोंकोभीदोषीमानाहैऔरदंडकीभीसिफारिशकीहै।हालांकिबिकरूकांडमेंजिनकोदोषीमानाहै,उसलिस्टमेंशहीदसीओदेवेंद्रमिश्राकानामभीहै,परदिवंगतहोनेकेचलतेउनकेबारेमेंन्यायिकआयोगनेकोईसिफारिशनहींकीहै।न्यायिकआयोगकीरिपोर्टमेंजिनकोदोषीमानागयाहै,उनकेनामऔरदंडनीचेदियेहैं...।

न्यायिकआयोगनेकीबिकरूकांडकीजांच

दोजुलाई2020कोचौबेपुरथानाक्षेत्रकेबिकरूगांवमेंगैंगस्टरविकासदुबेकेघरदबिशडालनेगईपुलिसटीमपरघातलगाकरहमलाकरदियागयाथा।इसमेंतत्कालीनसीओबिल्हौरदेवेंद्रमिश्रसमेतआठपुलिसकर्मीशहीदहुएथे।अगलेहीदिनपुलिसनेसुबहविकासकेमामाप्रेमप्रकाशपांडेयवचचेरेभाईअतुलदुबेकोगांवकाशीरामनिवादामेंमारगिरायाथा।पुलिसनेविकासकेचचेरेभाईअमरदुबेकोआठजुलाईकोहमीरपुरकेमौदहातथाइसीदिनबउआदुबेकोइटावामेंमुठभेड़मेंमाराथा।नौजुलाईकोप्रभातमिश्रकोकानपुरकेसचेंडीथानाक्षेत्रमेंहाईवेकेपासजबकिविकासकोउज्जैनमेंपकड़नेकेबादकानपुरलातेवक्तगाड़ीपलटनेपरभागनेकेदौरान10जुलाईकोपुलिसनेमाराथा।सुप्रीमकोर्टकेसेवानिवृत्तजजडा.बीएसचौहानकीअध्यक्षतामेंतीनसदस्यीयन्यायिकआयोगनेहालहीमेंराज्यसरकारकोरिपोर्टसौंपीहै।रिपोर्टसेजुड़ेकुछअंशदैनिकजागरणकोमिलेहैं,जिसमेंआयोगनेनिलंबितडीआइजीअनंतदेव,तत्कालीनएसएसपीदिनेशकुमारपी,तत्कालीनएसपीग्रामीणबृजेशकुमार,तत्कालीनसीओएलआइयूसूक्ष्मप्रकाश,पूर्वएसपीग्रामीणप्रद्युम्नसिंह,पूर्वसीओकैंटआरकेचतुर्वेदी,तत्कालीननोडलअधिकारीपासपोर्टअमितकुमारऔरपूर्वसीओबिल्हौरनंदलालसिंहकोदोषीमानाहै।

-पूर्वडीआइजीअनंतदेव

-तत्कालीनसीओएलआइयूसूक्ष्मप्रकाश

-पूर्वएसपीग्रामीणप्रद्युम्नसिंह,

-पूर्वसीओकैंटआरकेचतुर्वेदी

तत्कालीनएसएसपीदिनेशकुमारपी

तत्कालीनएसपीग्रामीणबृजेशकुमार

तत्कालीननोडलपासपोर्टअधिकारी

इनपरयेकार्रवाई

अमितकुमार:प्रारंभिकजांचकरअनुशासनात्मककार्रवाई

पूर्वसीओबिल्हौरनंदलालसिंह:प्रारंभिकजांचकरअनुशासनात्मककार्रवाई

पुलिसकीछविधूमिलहुई,शासनकीविश्वसनीयता

जांचरिपोर्टमेंन्यायिकआयोगनेलिखाहैकिअफसरोंकेइनकृत्योंसेपुलिसविभागकीछविधूमिलहुईहै।वहीं,शासनकीविश्वसनीयताप्रभावितहुईहै।इसीलिएसभीपरअखिलभारतीयसेवाएंआचरणसेवानियमावली-1968औरउत्तरप्रदेशसरकारीकर्मचारीआचरणनियमावली1956केतहतकार्रवाईकीसंस्तुतिकीगईहै।

जानिए-किसदंडकाक्याप्रावधान

वृहददंड:पीठासीनअधिकारीनियुक्तकरआरोपोंकीजांचहोतीहै।इसमेंआरोपितकोपक्षरखनेकामौकाभीदियाजाताहै।दोषीमिलनेपरतीनतरहकीसजाकाप्रावधानहै।पहली,ऐसीबर्खास्तगी,जिसमेंसभीप्रकारकीसरकारीनौकरीकेलिएअयोग्यघोषितकरदियाजाएगा।दूसरी,केवलविभागसेबर्खास्तगीऔरतीसरीन्यूनतमवेतनमानपरभेजाजाना।

लघुदंड:जांचअधिकारीजांचकरकेआरोपतयकरताहै।आरोपितसेइसकेबादजवाबमांगाजाताहै।जवाबकेआधारपरपदावनति,मिसकंडक्टऔरवेतनवृद्धिरोकदेनेकीसजामिलसकतीहै।

अनुशासनात्मककार्रवाई:विभागीयजांचमेंतयहोताहैकिआरोपितकेखिलाफवृहददंडयालघुदंडकेतहतकार्रवाईहो।