यूपी के पूर्व DGP ने कहा- खाकी, खादी और अपराध के मिश्रण की मिसाल है विकास दुबे

कानपुरमेंआठपुलिसकर्मियोंकीशहादतकेबादइसघटनाकेमुख्यआरोपीगैंगस्टरविकासदुबेकीतलाशजारीहै.वहीं,दूसरीतरफकानपुरप्रशासननेविकासदुबेकेबिठुरस्थितआवासकोगिरादियाहै.विकासदुबेकोदबोचनेकेलिएएटीएसऔरयूपीपुलिसचप्पे-चप्पेपरनिगाहलगाएहुएहै.इसकेलिएलगातारछापेमारीजारीहै.इसबीचप्रदेशकेपूर्वडीजीपीविक्रमसिंहने'आजतक'केप्रोग्रामदंगलमेंकहाकिविकासदुबेजैसेलोगपुलिस,राजनीतिऔरअपराधकीमिलीभगतसेपैदाहोतेहैंऔरआगेचलकरअपराधकीअपनीदुनियाकायमकरतेहैं.

बतादें,शहीदपुलिसकर्मियोंकेपोस्टमार्टममेंखुलासाहुआहैकिसीओकेसीनेपरसटाकरगोलीमारीगई,सीओदेवेंद्रमिश्राकेकमरपरकुल्हाड़ीसेवारकियागयाथा.दारोगाअनूपको7गोलियांमारीगईहैं.चारजवानोंकेशरीरसेगोलियांआरपारहोगईथीं.अन्यपुलिसकर्मियोंकेशरीरसेकारतूसकेटुकड़ेमिलेहैं.इतनाजघन्यअपराधकरनेकेबावजूदविकासदुबेअबतकफारारहैऔरपुलिसकोकानोंकानखबरनहींलगी.इसपरयूपीकेपूर्वडीजीपीविक्रमसिंहनेकहाकियह(विकासदुबे)खाकी,खादीऔरअपराधकेमिश्रणकीसबसेनग्नमिसालहै.ऐसासंगठनढूंढनामुश्किलहैजोइसकेटुकड़ेपरनपलाहो.

विक्रमसिंहनेकहा,सरकारीविभागहोयाराजनीतिकदलहों,अनैतिकलोगोंनेआजइससंपोलेकोअजगरबनादियाहै.ऐसीउम्मीदकीजातीहैकिऐसेलोगदो-दिनमेंमिलजाएंलेकिनऐसीसफलता15दिनबादहीमिलतीहै.हरजगहसतर्कताहैऔरयहशातिरदिमागआदमीहैजिसकेपासएके-47औरइनसासजैसेहथियारऔर300राउंडकारतूसहैंजोउसनेपुलिससेलूटेहैं.इसकेअलावाअपनेभीगोला-बारूदहोंगे.यहपुरानाअपराधीहै,इसलिएपुलिसकोपताहोगाकिकहांपरछुपसकताहै.मुझेउम्मीदहैकिएटीएसऔरयूपीपुलिसइसेढूंढकरचकनाचूरकरदेगीऔरकिसीउदारताकापरिचयनहींदेगी.

पुलिसकेलोगोंनेहीइसकीमददकीहै.इसपरविक्रमसिंहनेकहाकिऐसेपुलिसकर्मियोंकाअंतिमसंस्कारजेलमेंहोगा.पुलिसकीउज्ज्वलवर्दीपरधब्बालगानेवालोंकेखिलाफसख्तकार्रवाईहोनीचाहिए.येमेरेविभागकीगलतीहैकिथानेमेंघुसकरमारनेकेबावजूदकिसीनेउसकेखिलाफगवाहीनहींदीऔरवहबरीहोगया.पहलेऐसेलोगोंकोदौड़ाकरगोलीमारदीजातीथी,इन्हेंअंतिमछूटनहींदीजातीथी.मेरेकार्यकालमेंइसपररासुकालगाथा.उसकाइलाजउसीवक्तकरदेनाचाहिएथाऔरऐसाहीहोगा.